नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। खाने की थाली दही के बिना अधूरी लगती है। दही का सेवन सेहत को कई तरह से फायदा पहुंचा सकता है। एक नए अध्ययन में यह बात सामने आई है कि दही का रोज़ाना सेवन करने से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल किया जा सकता है। माइने विश्वविद्यालय के सहयोग से दक्षिण ऑस्ट्रेलिया विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित अध्ययन में दही के सेवन, हाई ब्लड प्रेशर और दिल संबंधी जोखिम कारकों के बीच संबंध की जांच की गई है। इंटरनेशनल डेयरी जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक हाई ब्लड प्रेशर वाले लोग दही का सेवन करके ब्लड प्रेशर को कम कर सकते हैं।

ब्लड प्रेशर की बीमारी के जोखिम:

'साइलेंट किलर' के नाम से पहचाने जाने वाली हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी बॉडी के लिए बेहद घातक है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार हाई ब्लड प्रेशर एक ऐसी गंभीर चिकित्सा स्थिति है जो दिल, मस्तिष्क, किडनी और अन्य बीमारियों के जोखिम को काफी बढ़ा देती है।

दही ब्लड प्रेशर कम करने में कैसे मदद करती है:

दही में कैल्शियम, आयरन, पोटैशियम, विटामिन बी6 और मैग्नीशियम जैसे पोषक तत्व होते हैं। हार्वर्ड हेल्थ के अनुसार मैग्नीशियम हाई ब्लड प्रेशर के लिए अच्छा माना जाता है, जबकि कैल्शियम मांसपेशियों के संकुचन में मदद करता है, जो हृदय की मांसपेशियों के लिए अच्छा होता है।

अध्ययन में हुआ खुलासा:

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के एपिडेमियोलॉजी एंड लाइफस्टाइल में प्रस्तुत 2016 के एक अध्ययन में यह भी पाया गया है कि जिन महिलाओं ने पूरे सप्ताह में दही का पांच या उससे अधिक बार सेवन किया उनमें हाई ब्लड प्रेशर का जोखिम कम रहा। दही गैस्ट्रिक की समस्याओं को दूर करने और मसालेदार खाने से होने वाली हीट को ठंडा करने में भी मदद करती है।

दही का कितना सेवन करना है उपयोगी:

आमतौर पर दूध और दूध से बनी चीज़ों का तीन बार ही सेवन करना चाहिए। दोपहर और रात के खाने के साथ एक कप दही खा सकते हैं और एक गिलास दूध पी सकते हैं। 

Edited By: Shahina Noor