नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। लंबे समय तक एक ही पॉश्चर में बैठने या काम करने से कमर दर्द की शिकायत होती है। खासकर कोरोना महामारी की पहली और दूसरी लहर के दिनों में लोग अपने घरों में बंद थे और घर से ही काम कर रहे थे। इस दौरान लोगों के रहन-सहन में व्यापक बदलाव देखने को मिला। घर में ऑफिस जैसा माहौल और वर्क स्टेशन न होने के चलते लोगों में कमर दर्द जैसी समस्या देखी गई है। विशेषज्ञों की मानें तो कमर दर्द को प्राथमिक स्तर पर ठीक किया जाता है। इसके लिए सबसे पहले बैठने के तरीके में सुधार करें। साथ ही रोजाना एक्सरसाइज और योग जरूर करें। योग के कई आसन हैं। इनमें एक आसन गोमुखासन है। इस योग को करने कमर दर्द में बहुत जल्द आराम मिलता है। आइए, इसके बारे में सबकुछ जानते हैं-

गोमुखासन क्या होता है

गोमुखासन दो शब्दों गौ और मुख से मिलकर बना है। आसान शब्दों में कहें तो गौ की तरह मुखकर आसन करना गोमुखासन कहलाता है। इस योग को करने से सेहत पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है।

गोमुखासन करने का सही तरीका

इसके लिए सबसे पहले शांत और हवादार स्थान पर चटाई बिछाकर सुखासन मुद्रा में बैठे जाएं। अब अपने दाएं पैर को बाएं और बाएं पैर को दाएं जांघ पर रखें। इसके बाद अपने दाएं हाथ को कंधे के ऊपर से पीठ की तरफ ले जाएं और बाएं हाथ की मदद से दाहिने हाथ को पकड़ने की या मिलाने की कोशिश करें। इस मुद्रा में रहकर धीरे-धीरे सांस लें और सांस छोड़ें। शुरुआत के दिनों में गोमुखासन करना आसान नहीं होता है। इसके लिए योगा एक्सपर्ट की निगरानी में गोमुखासन करें।

कमर दर्द में फायदेमंद

गोमुखासन का नियमित अभ्यास करने से कमर दर्द की समस्या से बहुत जल्द निजात मिलता है। इसके लिए रोजाना गोमुखासन जरूर करें। साथ ही इस आसन को करने से मधुमेह, तनाव, अस्थमा आदि रोगों में भी आराम मिलता है।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Edited By: Pravin Kumar