नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Dahi Eating Tips: दही भारतीय खाने का बेहद अहम हिस्सा रहा है। फिर चाहे देश का कोई भी कोना हो, हर जगह दही खाने के साथ परोसा ही जाता है। हम में से शायद ही कोई हो जो दही के बिना खाने का ख्याल भी कर सकता हो। दही खाने के फायदे तो सभी जानते हैं, लेकिन इसके बावजूद इसे लेकर मिथक भी कम नहीं हैं। खासतौर पर दही खाने के समय और तरीके को लेकर आपने भी कई तरह की बातें सुनी होंगी। तो आइए बिना देर किए जानें कि दही को किस तरह और समय खाना सबसे फायदेमंद होता है।

दही पर हुआ शोध क्या कहता है

विस्कॉन्सिन-मैडिसन विश्वविद्यालय द्वारा चयापचय की स्थिति पर एक शोध के अनुसार, यह पाया गया कि खाने के साथ या बाद में दही खाने के मुकाबले खाने से पहले इसे खाना बेहतर साबित हो सकता है। शोध में पाया गया कि जिन महिलाओं ने खाने से पहले दही का सेवन किया उनमें आंत की सूजन कम हुई और पाचन भी बेहतर हुआ।

रोज़ दही खाने के फायदे

दही के पेट को राहत और सुकून देने वाले गुणों की वजह से यह सदियों से हमारी रोज़ की डाइट का हिस्सा रहा है। रोज़ दही का सेवन मेटाबॉलिज़्म को बढ़ावा देता है, खाने से पोषक तत्व का अवशोषण बेहतर तरीके से होता है और हड्डियों को ताकत मिलती है। दही की तासीर ठंडी ज़रूर होती है, लेकिन इसके बावजूद इसे हर मौसम में खाने की सलाह दी जाती है। इसके पीछे वजह है दही में मौजूद प्रोबायोटिक्स और प्रीबायोटिक्स, जो न सिर्फ आंत औप पाचन को दुरुस्त रखते हैं, बल्कि सूजन और मोटापे को कम करने का भी काम करते हैं।

सर्दियों में दही खाना सही है?

दही की तासीर ठंडी होती है, लेकन इसके बावजूद ठंड के मौसम में इसे खाना फायदेमंद हो सकता है। आपको अगर दही ज़्यादा ठंडा लगता है, तो आप इसमें शहद या फिर काली मिर्च, भुने ज़ीरे का पाउडर मिलाकर खा सकते हैं। इससे यह शरीर में ठंडक नहीं करेगा, बलगम के गठन को कम करेगा और पाचन को बेहतर बनाकर कब्ज़ से बचाएगा।

Disclaimer: लेख में उल्लिखित सलाह और सुझाव सिर्फ सामान्य सूचना के उद्देश्य के लिए हैं और इन्हें पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जाना चाहिए। कोई भी सवाल या परेशानी हो तो हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें।

Picture Courtesy: Freepik

Edited By: Ruhee Parvez

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट