चेहरे को बेदाग रखने और खूबसूरत नजर आने के लिए ज्य़ादातर लड़कियां पॉर्लर पर डिपेंड रहती हैं पर तमाम कोशिशों के बाद कील-मुहांसों परेशान करते ही रहते हैं। ये मुंहासे भले ही एक सप्ताह से ज्य़ादा न रहें पर जाते-जाते चेहरे पर निशान छोड़ जाते हैं, जो देखने में बहुत ही खराब लगते हैं। हालांकि इससे हमारी सेहत को कोई नुकसान नहीं होता लेकिन चेहरे पर पड़े निशान किसी को भी अच्छे नहीं लगते। तो कैसे दूर की जाए ये प्रॉब्लम ,जानेंगे यहां।

क्या है प्रॉब्लम की वजह

कील-मुंहासे यूं तो ऑयली स्किन वालों को ज्य़ादा होते हैं लेकिन कई बार ये हेरिडेटरी भी हो सकते हैं। अगर घर में किसी बड़े की त्वचा ऑयली है तो बच्चों में भी ऐसा होने का खतरा बना रहता है। दरअसल ऑयली स्किन वाले ग्लैंड्स से ज्य़ादा ऑयल निकलता है, जिससे धूप व धूल और पॉल्यूशन के संपर्क में आने पर त्वचा के पोर्स में गंदगी आसानी से जमा होने लगती है। इसी वजह से चेहरे पर कील-मुंहासे आ जाते हैं। स्किन ऑयली है तो उसकी सफाई का खास खयाल रखें।

बहुत ज्यादा एक्सपेरिमेंट से बचें

बहुत ज्यादा टोनर, क्लींज़र और स्क्रब का इस्तेमाल हानिकारक हो सकता है। इससे त्वचा के ऑयल ग्लैंड्स ऐक्टिव हो जाते हैं, जिससे मुंहासे होने लगते हैं। टोनर और क्लींज़र को दिन में एक बार और स्क्रब को सप्ताह में एक बार इस्तेमाल करें। इसके अलावा वॉटर बेस्ड मॉयस्चराइज़र ही इस्तेमाल करें।

स्ट्रेस न लें

तनाव की वजह से शरीर का हॉर्मोनल संतुलन बिगड़ जाता है और इससे भी मुंहासों की समस्या हो सकती है। ऐसे में रोज़ाना एक्सरसाइज़ और मेडिटेशन करने से भी आपको राहत मिल सकती है।

हो जाएं सतर्क

देर तक धूप के संपर्क में रहने के कारण भी कील-मुंहासों की समस्या से दो चार होना पड़ता है। इसलिए बार-बार मुंह धोते रहें, ताकि एक्स्ट्रा ऑयल निकल जाए। दवाओं के कारण भी मुंहासे हो सकते हैं। यदि किसी दवा के सेवन के बाद से चेहरे पर मुंहासे आ रहे हैं तो तुरंत एक्सपर्ट से संपर्क करें।

Posted By: Priyanka Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप