नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। Home Remedies For Skin Problems: चमकती त्वचा हर किसी की ख्वाहिश होती है। त्वचा हमारे शरीर का सबसे बड़ा अंग होती है। यह आंतरिक अंगों की सुरक्षा करती है, शरीर के तापमान को नियंत्रित करती है, विटामिन-डी के संश्लेषण में मदद करती है, हमें अच्छा दिखने के साथ-साथ दर्द और स्पर्श संवेदनाओं को समझने में भी मदद करती है।

त्वचा की देखभाल हमारे रोज़ के ज़रूरी कामों में से एक होना चाहिए। स्वस्थ खाना, एक्सरसाइज़, स्वस्थ रहन-सहन, रोज़ाना मेडिटेशन और प्रणायाम के साथ रोज़ क्लीनज़िंग, मॉइश्चराइज़िंग और धूप से बचाव, कुछ ऐसी चीज़ें हैं जिससे हमारी त्वचा स्वस्थ और उसमें चमक बरकरार रहेगी। 

हालांकि आपके इस समस्याओं के लिए बाज़ार में कई तरह की दवाइयां मिल जाएंगी लेकिन इनके लिए घरेलू उपया भी मौजूद हैं। घरेलू उपायों का एक फायदा ये होता है कि इनसे साइडइफेक्ट की गुंजाइश कम होती है। लेकिन इस बात का ध्यान रखना भी ज़रूरी है कि घरेलू उपाय भी आप अपनी त्वचा के मुताबिक ही करें। खासकर, तब जब आपकी त्वचा नाज़ुक और परतदार  हो।

त्वचा से जुड़ी परेशानियों के लिए आसान घरेलू उपाय:

पिम्पल्स

1. एलोवेरा में हल्दी मिलाकर पेस्ट बना लें। हल्दी में एंटीबैकटीरियल तत्व होते हैं, वहीं एलोवेरा घाव को भरता है।

2. नीम की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बना लें। चेहरे पर स्टीम लेने के बाद इस पेस्ट को लगा लें। नीम पिम्पल्स को दूर करने में काफी मददगार होता है।

3. क्लाइनडामाइसिन युक्त जेल दिन में दो बार पिम्पल पर लगाएं। ये जल्द ही इसे सुखा देगा। 

एक्ने

1. एलोवेरा जेल, चंदन और संतरे के छिलके के पाउडर को मिलाकर पेस्ट बना लें। इससे एक्ने जल्दी कम हो जाते हैं।

2. टी-ट्री ऑइल से दिन में दो बाल एक्ने को साफ करें और रात को सोने से पहले उस पर एडाफेरिन जेल लगाएं।  

फटे होठों के लिए

1. जितनी बार हो सके होठों पर घी या फिर मक्खन लगाएं और इसे चाटे नहीं। 

2. कोल्ड-प्रेस्ड नारियल का तेल फटे होठों के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। 

3. बादाम को पीसकर पेस्ट बना लें या फिर ताज़े दूध की मलाई को दिन 2-3 बार होठों पर लगाएं। इससे रूखापन दूर होगा। 

रूखी त्वचा

1. नहाने से पहले बादाम के तेल से मालिश करें और फिर गुगुने पानी से नहा लें। ध्यान रखें कि गर्म पानी आपकी त्वचा को और रूखा  बना देता है इसलिए गुनगुने पानी से नहाएं। नहाने के बाद नमी के लिए एक अच्छा मॉइश्चराइज़र लगाएं। 

2. बादाम के पेस्ट में मलाई मिलाकर इससे त्वचा पर कुछ देर मसाज करें। उसके बाद धो लें और फौरन मॉइश्चराइज़र लगा लें। साबुन का इस्तेमाल बंद कर दें क्योंकि ये त्वचा के पीएच लेवेल को प्रभावित कर और रूखा बनाता है। 

गर्मी से दाने होना 

1. दानों पर दिन में दो बार नीम और हल्दी का पेस्ट लगाएं। ये दोनों एंटीसेप्टिक होते हैं और दानो पैदा करने वाले कीटाणु  को मारते हैं। 

2. डेटॉल या सेवलोन जैसी एंटीसेप्टिक चीज़ों का इस्तेमाल न करें, क्योंकि इससे डर्माटाइटिस भी हो सकता है। 

पिगमेंटेशन

1. पिसा हुआ पपीते, दही, नींबू का रस, सेब का रस, ये सभी हल्के से ऐसीडिक होते हैं। ये त्वचा की डेड परत उतारने के साथ ही पिगमेंटेशन को भी कम करते हैं। 

2. सोया या फिर कोफी के पत्ते का पेस्ट भी पिगमेंटेशन को कम करने में मदद करते हैं। 

धूप से रंग गहरा हो जाना

1. इसके लिए दही, हल्दी और शहद का पेस्ट बनाकर लगा लें। दही में लैक्टिक एसिड होता है जो ब्लीच का काम करता है। वहीं, हल्दी और शहद एंटीसेप्टिक होते हैं। 

2. पत्ता गोभी के पल्प में विनेगर मिलाकर लगाने से भी रंग ठीक हो जाता है। 

धूम में झुलसना

1. इसके लिए शरीर का जो हिस्सा झुलसा है वहां बर्फ लगा लें, बहुत सारा पानी पिएं और धूप में जाने से बचें। 

2. चंदन या फिर नारियल का तेल भी त्वचा को आराम पहुंचाता है। यहां तक कि एलोवेरा भी झुलसी हुई त्वचा को ठीक करता है।

Disclaimer: घरेलू उपायों को आज़माने से पहले भी अपनी डॉक्टर से सलाह ज़रूर कर लें। अगर इन उपायों से आपको 2-3 हफ्तों में फायदा नहीं मिलता है तो डॉक्टर को दिखाएं और त्वचा के अनुसार इलाज कराएं।

    

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप