संवाद सहयोगी, चाईबासा : चाईबासा के डीएवी पब्लिक स्कूल की 17 वर्षीय छात्रा प्रिया बारी की पुल से गिर जाने से घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

छात्रा जगन्नाथपुर की रहने वाली थी। अपने रिश्तेदार के यहां चाईबासा में रहकर डीएवी स्कूल में पढ़ाई कर रही थी। स्कूल में अवकाश के कारण बुधवार को दिन के 12 बजे अपने पांच दोस्तों के साथ दो मोटरसाइकिलों से चाईबासा-टाटा सड़क मार्ग पर घूमने निकली थी। सभी दोस्त मौदा पुलिया के पास खड़े होकर बात कर रहे थे। इसी क्रम में प्रिया का संतुलन बिगड़ गया और वो रे¨लग से सीधे 10 फीट नीचे जा गिरी। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इधर, परिवार वालों ने मौत को संदेहास्पद बताया है। परिजनों का कहना है कि पुलिया से गिरने से उसे ज्यादा चोट नहीं आई। इतनी कम ऊंचाई से गिरकर उसकी मौत कैसे हो सकती है? परिजनों के मुताबिक डीएवी पब्लिक स्कूल में 12वीं कक्षा में विज्ञान विषय लेकर पढ़ाई कर रही। बुधवार को विद्यालय बन्द होने के कारण ताम्बो स्थित अपने चाचा सुरेन्द्र बारी के भाड़े के घर में ही थी। चाचा सुरेन्द्र बारी ने बताया की प्रिया बारी बुधवार के दिन करीब 10:30 बजे अपनी स्कूल फ्रेंड निशी प्रियंका हेम्ब्रम के पास किसी काम को लेकर जाने की बात बोलकर घर से निकली थी। करीब चार घंटा बाद दोपहर करीब दो बजे फोन से सूचना मिली की प्रिया बारी की पुलिया से गिरकर मौत हो गई है। प्रशासन ने शव को पोस्टमार्टम के लिए शीतगृह मे रखा है। सदर थाना की पुलिस ने अस्वाभाविक मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

......................................

रे¨लग से पुलिया की नीचे झांकने के क्रम में बिगड़ा संतुलन

प्रिया के दोस्त विवेक पुरती ने बताया की बुधवार के दिन करीब 12 बजे पांच दोस्त मिलकर दो स्कूटी में घूमने के लिए निकले थे। प्रिया बारी, निशी प्रियंका हेम्ब्रम व अनुप्रिया मुण्डा एक स्कूटी में बैठकर निकली। पीछे-पीछे हम व जमशेदपुर के करीम सिटी कालेज मे पढ़ाई कर रहा संजय कुदादा एक स्कूटी में निकले। करीब 1:30 बजे हम लोग मोदी गांव के सामने स्थित मौदी पुलिया पर रुके। सड़क के किनारे ही निशी प्रियंका हेम्ब्रम ,अनुप्रिया मुण्डा व संजय कुदादा एक जगह रुक कर बात कर रहे थे। हम और प्रिया बारी पुलिया के किनारे खड़े होकर बात कर रहे थे। प्रिया ने अपना एक पैर पुलिया की रेलिग पर रखा था। बात करने के दौरान प्रिया पुलिया के नीचे देखने का प्रयास कर रही थी। इसी दौरान उसका संतुलन बिगड़ा और पुलिया से सीधे नीचे जा गिरी। इसके बाद तुरंत उसे पुलिया के उपर लाए और सदर अस्पताल पहुंचाया। सदर अस्पताल में डॉक्टर ने प्रिया की मौत की पुष्टि की।

.......................

बड़ाजामदा में रेलकर्मी हैं मृत छात्रा के पिता

मृत प्रिया बारी कुमारडुंगी थाना क्षेत्र के तिलैपी गांव की रहने वाली थी। प्रिया के पिता सुनील कुमार बारी बड़ाजामदा में रेलवे कर्मचारी के पद में कार्यरत हैं। मां जगन्नाथपुर के सरकारी विद्यालय में कार्यारत है। मां के जगन्नाथपुर में काम करने के कारण बेटी प्रिया बारी जगन्नाथपुर स्थित केरेला इंगलिश मीडियम स्कूल में 10वीं तक पढ़ाई कर चाईबासा स्थित डीएवी पब्लिक स्कूल में 2016 को विज्ञान विषय लेकर दाखिला लिया था। प्रिया अपने चाचा- चाची के साथ ताम्बों में भाडे़ के घर में रहकर 12 वीं कर रही थी।

Edited By: Jagran