संवाद सहयोगी, चाईबासा : नगर परिषद की ओर से शहरवासियों को सिविल सर्जन आवास के सामने भव्य पार्क की सौगात दी गई है। पार्क का निर्माण करा रहे ठेकेदार ने बताया कि पार्क नगर परिषद के समय-सीमा के अंदर तैयार कर दिया गया है। इस पार्क की प्राक्कलित राशि 95 लाख रुपये थी। लोकसभा चुनाव को लेकर लगी आचार संहिता के कारण पार्क का उद्घाटन दो माह बाद ही किया जाएगा। अब दो माह बाद ही ठेकेदार पार्क को नगर परिषद को हैंडोवर करेंगे। इसके बाद नगर परिषद पार्क में घूमने के लिए समय-सीमा तय करेगा। पार्क में कोलकाता से मैक्सिकन घास मंगाकर लगाई गई है। यहां 58 स्ट्रीट लाइट व 232 जमीनी लाइट लगाई गई है। इसके अलावा बच्चों के लिए झूला एवं बड़ों के लिए व्यायाम आदि की व्यवस्था भी की गई है। इसके साथ ही पार्क में बैठने के लिए सीमेंट की कुर्सी स्थापित की गई है ताकि लोग आएं और घूमकर कुर्सी में बैठकर अपनी थकान दूर करें। पार्कइ की सुरक्षा के लिए गार्ड रूम का भी निर्माण कराया गया है, ताकि पार्क को व्यवस्थित ढंग से रखा जा सके। रंग-बिरंगी लाइट के लिए इलेक्ट्रिक रूम की भी स्थापना की गई है। पार्क में विभिन्न प्रजाति के फूलों के छोटे-छोटे पौधे लगाए गए हैं। इन पौधों को तैयार होने में थोड़ा समय लगेगा, लेकिन जब तैयार होंगे तो इस इलाके को हरा-भरा कर देंगे। पार्क की बाउंड्री वाल में कलाकृति की गई है जिससे पार्क की शोभा अधिक बढ़ गई है। इस पार्क की खासियत यह है कि पार्क के ठीक पीछे सिविल सर्जन का आवास, पार्क के सामने अपर उपायुक्त व सदर अनुमंडल पदाधिकारी तथा सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी का आवास है तथा इसी रास्ते से गांधीटोला, बड़ा नीमडीह व करणी मंदिर लोगों का हमेशा आना-जाना लगा रहता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस