Move to Jagran APP

Jharkhand News: चक्रधरपुर में नक्सलियों का तांडव, रेलवे ट्रैक को बम से उड़ाने की थी प्लानिंग; ऐसे रची गई साजिश

Jharkhand News झारखंड के चक्रधरपुर में नक्सलियों ने फिर से तांडव शुरू कर दिया है। नक्सलियों ने चक्रधरपुर रेल मंडल के अंतर्गत आने वाले मनोहरपुर और जराईकेला स्टेशनों के बीच रेलवे पटरी को बम से उड़ाने के लिए उसके फिश प्लेट को उखाड़ दिया। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे सुरक्षाबल के जवानों ने नक्सलियों की बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया।

By Rupesh Kumar Edited By: Sanjeev Kumar Wed, 10 Jul 2024 07:39 PM (IST)
चक्रधरपुर में नक्सलियों ने पटरी पर लगाया बैनर (जागरण)

जागरण संवाददाता, चक्रधरपुर। Jharkhand News: भाकपा माओवादी नक्सलियों ने बंद के दौरान चक्रधरपुर रेल मंडल के अंतर्गत आने वाले मनोहरपुर और जराईकेला स्टेशनों के बीच बैनर लगाने के बाद बम लगाने के लिए रेल पटरी की फिश प्लेट उखाड़ दिया।

लेकिन इसकी सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे सुरक्षाबल के जवानों की कार्रवाई से नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम हो गई। इस घटना के कारण हावड़ा मुंबई मुख्य रेल मार्ग में चार घंटों तक ट्रेनों का परिचालन बाधित रहा। यह घटना बुधवार की अहले सुबह 2 बजे की बताई जा रही है।

जानकारी के अनुसार मनोहरपुर-जराइकेला स्टेशनों के बीच स्थित थर्ड रेल लाइन के पोल नंबर 378/35 ए और 378/31 ए-35 ए के समीप भाकपा माओवादी नक्सलियों ने रेल पटरी पर बैनर लगा दिया । इसके बाद पटरी के फिश प्लेट को भी उखाड़ दिया। नक्सली पटरी पर बम लगाने की कोशिश कर ही रहे थे कि घटना की सूचना पाकर मौके पर सुरक्षाबल के जवान पहुंच गए ।

जिसके बाद नक्सली घटना स्थल से भाग खड़े हुए। इस घटना की सूचना जब रेल मंडल मुख्यालय के वरीय पदाधिकारियों को दी गई तो ट्रेनों का परिचालन दो बजे से रोक दिया गया। इसके बाद सुरक्षाबल के जवानों ने बम निरोधक दस्ता, मेटल डिटेक्टर और खोजी कुत्ते की मदद से पटरियों की जांच की।

वहीं उखाड़े गए फिश प्लेट वाले रेल पटरी को भी दुरुस्त कर दिया गया । रेल पटरी की जांच के बाद सुरक्षाबलों ने क्लीयरेंस दिया । जिसके बाद बुधवार सुबह 06:00 बजे से ट्रेनों का परिचालन फिर से बहाल हो गया ।

ये ट्रेनें इन स्टेशनों में रुकी रही

भाकपा माओवादी नक्सलियों द्वारा रेलवे ट्रैक पर बैनर लगाए जाने के बाद जराइकेला में ट्रेन संख्या 18190 एर्नाकुलम-टाटानगर एक्सप्रेस, गोईलकेरा में ट्रेन संख्या 22906 ओखा-शालीमार सुरफास्ट एक्सप्रेस, सोनुआ में ट्रेन संख्या 12810 हावड़ा-मुंबई मेल और चक्रधरपुर में ट्रेन संख्या 12130 हावड़ा-पुणे आजाद हिंद एक्सप्रेस को रोक कर रखा गया था।

देर रात को नक्सली धमक के कारण विभिन्न स्टेशनों में अचानक से ट्रेनों का परिचालन रोक दिए जाने से उसमें सवार यात्री परेशान रहे। उन्हें रेलवे के द्वारा कोई भी सटीक जानकारी नहीं दी जा रही थी । नक्सली बंद के दौरान अचानक सोनुआ, गोईलकेरा और जराईकेला जैसे नक्सल प्रभावित स्टेशनों में ट्रेनों के रुके रहने से यात्री डरे और सहमे रहे।

करमपदा रेल खंड में लगा बैनर

इधर खनन बहुल क्षेत्र के करमपदा रेल सेक्शन में भी नक्सलियों ने इसी तरह बैनर लगाने के बाद बम प्लांट कर रेल पटरी को उड़ाने की साजिश रची थी। जिसके बाद से सेक्शन में ट्रेनों का परिचालन ठप्प कर दिया गया है । बता दें की यहां केवल मालगाड़ियों का परिचालन होता है। मालगाड़ी का परिचालन ठप्प रहने से रेलवे को भरी आर्थिक नुकसान युवा है।

ये भी पढ़ें

Dumka Result 2024: हेमंत सोरेन की भाभी क्यों हारी चुनाव? चौंकाने वाली वजह आई सामने; यह गलती पड़ गई भारी

Ranchi Lok Sabha Result 2024: संजय सेठ के इस रिकॉर्ड को जान पूरी BJP हो जाएगी निराश, सांसद जी के कोर वोटर भी होंगे हैरान