जागरण संवाददाता, चाईबासा : सड़क सुरक्षा समिति की मासिक बैठक मंगलवार को समाहरणालय सभाकक्ष में उपायुक्त अरवा राजकमल की अध्यक्षता में हुई। बैठक में मुख्य रूप से उपायुक्त ने झींकपानी-हाटगम्हरिया एव हाटगम्हरिया-जैंतगढ़ मार्ग में साइनेज लगाने, एनएच मार्गो में अवस्थित गड्ढों को भरने, बंदगांव मार्ग में सड़क किनारे व्हाइटनिग कराने का निर्देश नेशनल हाइवे के कार्यपालक अभियंता को दिया। उपायुक्त ने कहा कि नो पाíकंग जोन में वाहन खड़े करने पर अब 2 हजार जुर्माना वसूला जाएगा। वहीं भारी वाहनों के चालकों के बीच नेत्र जांच शिविर का आयोजन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यूरेनियम कॉरपोरेशन लिमिटेड द्वारा 1 करोड़ 20 लाख की लागत से जल्द ही नए ट्रॉमा सेंटर का निर्माण कराया जाएगा। वहीं, पंचायत स्तर पर ग्रामीण सड़क सुरक्षा समिति का गठन किया जाएगा, जिसमें सामाजिक लोगों को जोड़ा जाएगा ताकि वे तत्काल सड़क दुर्घटनाओं में घायल लोगों की सहायता कर सकें।

------------------

सभी थानों को हेलमेट व वाहन जांच का एसपी ने दिया निर्देश

बैठक में पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत महथा ने कहा कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने हेतु सभी थानों में सघन रूप से हेलमेट एवं वाहन जांच अभियान चलाया जाएगा। वही ओवरलोड वाहनों को भी कड़ाई से जांच की जाएगी। इससे पूर्व बैठक में पूर्व माह के जांच अभियानों एवं अन्य आंकड़ों की समीक्षा की गई। मौके पर मुख्य रूप से सदर अनुमंडल पदाधिकारी परितोष कुमार ठाकुर, जगन्नाथपुर अनुमंडल पदाधिकारी स्मृता कुमारी ,सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अमर कुमार पांडे, हेड क्वार्टर डीएसपी अरविद कुमार, एनएच के कार्यपालक अभियंता रामविलास साहू, जिला खनन पदाधिकारी संजीव कुमार, आरसीडी मनोहरपुर के अभियंता शैलेंद्र कुमार, सदर पुलिस निरीक्षक प्रवीण कुमार, सदर थाना प्रभारी सुनील तिवारी, सड़क सुरक्षा समिति के सदस्य अधिवक्ता राजाराम गुप्ता, नितेश राठौड़ , पीआईयू टीम के आनंद आर्या, देवाशीष साहू, परिवहन विभाग के जगन्नाथ सुंडी, एसीसी कंपनी के प्रतिनिधि वेलू स्वामी एवं अन्य मौजूद थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By: Jagran