जागरण संवाददाता, चाईबासा : जिला परिवहन विभाग ने दो दिनों के भीतर यातायात नियमों का उल्लंघन करते 33 मोटरसाइकिल और दो टाटा मैजिक चालकों का चालान काटते हुए कुल 60 हजार रुपये बतौर जुर्माना वसूला है। चाईबासा में एक मोटरसाइकिल चालक को लाइसेंस व हेल्मेट के अभाव में कुल छह हजार रुपये की चपत लगी। जिला परिवहन विभाग की ओर से बताया गया कि बुधवार को सदर थाना के सामने मोटर साइकिल जांच अभियान चलाकर बिना हेलमेट के 11 मोटर साइकिल चालकों से 11 हजार रुपये की दंड स्वरूप वसूली की गयी। इसी तरह मंगलवार को मुफ्फसिल थाना के सामने बिना हेलमेट के मोटर साइकिल चालकों की जांच की गयी थी। इस दौरान 22 मोटरसाइकिल चालकों और दो टाटा मैजिक वालों से कुल 49 हजार रुपये की अर्थदंड स्वरूप वसूली की गयी। टाटा मैजिक ओडिशा के थे। यहां बिना परमिट के चल रहे थे। दोनों से 10-10 हजार रुपये वसूले गये। इधर, इंस्पेक्टर सह सदर थाना प्रभारी निरंजन तिवारी ने बताया कि मोटर साइकिल चालकों की लगातार जगह बदल कर जांच होगी। इसमें सबसे ज्यादा बिना हेलमेट के लोग अपनी-अपनी बाइक को चलाते है। इन पर पुलिस की विशेष निगाह रहेगी। साथ ही 18 वर्ष से आयु कम वाले युवक व युवतियों की भी निगरानी की जाएगी। कम आयु वाले युवक-युवतियों को पहले रोका जाएगा, इसके बाद इनके परिजनों को बुलाकर फाइन काटा जाएगा। क्योंकि स्कूटी व मोटर साइकिल बिना अभिभावक के कैसे लेकर सड़क पर दौड़ा रहे है। इस पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। क्योंकि अभी जो भी सड़क दुर्घटनाएं हो रही है उनमें स्कूटी सीख रही युवतियां ज्यादा शामिल हैं। सीखने के दौरान युवतियां तीन लोग बैठकर चलाती है। पुलिस का यह मतलब नहीं कि किसी को परेशान किया जाय। पुलिस तो मोटर साइकिल व स्कूटी चालकों की सुरक्षा के लिए हेलमेट लगातार पहनने की बात करती है। अगर आप हेलमेट पहनकर चला रहे है तो पुलिस को कोई दिक्कत ही नहीं है। निरंजन तिवारी ने आह्वान किया कि मोटरसाइकिल चालक बिना हेलमेट के न चलाए और सुरक्षित अपने घर जाए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस