जागरण संवाददाता, साहिबगंज : सदर अस्पताल के शौचालय से गुरुवार की रात एक नवजात शिशु बरामद किया गया। चाइल्ड लाइन के संरक्षण में सदर अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। आशंका जतायी जा रही है कि किसी अविवाहित लड़की ने बच्चे को जन्म देने के बाद उसे वहां रख दिया होगा। चाइल्डलाइन को रात में साहिबगंज सदर अस्पताल के शौचालय में एक नवजात शिशु के होने की जानकारी मिली। सूचना मिलते ही चाइल्डलाइन की टीम तुरंत सदर अस्पताल पहुंची। वहां शौचालय में एक शिशु को देखा। उसे देखने के लिए भीड़ लगी हुई थी। चाइल्ड लाइन की टीम ने उसे अपनी अभिरक्षा में लेने की कोशिश की तो सदर अस्पताल के कुछ लोगों ने रोक दिया। इसके बाद चाइल्ड लाइन की टीम ने जिले के वरीय पदाधिकारी, बाल संरक्षण से संबंधित पदाधिकारी और थाने को इस मामले की जानकारी दी। सूचना मिलते ही जिरवाबाड़ी थाने मौके पर पहुंची और चाइल्डलाइन के सहयोग से शिशु को शौचालय से निकलवा कर उसे अस्पताल में डॉक्टर और नर्स के देखरेख में रखा। शिशु को रात में ही भर्ती लिया गया। उसके सिर में चोट लगा हुआ था। शुक्रवार को चाइल्ड लाइन और बाल संरक्षण पदाधिकारी ने सदर अस्पताल जाकर बच्चे की स्वास्थ्य की जानकारी ली। डॉक्टर ने बताया कि शिशु के स्वास्थ्य में पहले से काफी सुधार हुआ है। वर्तमान में शिशु पांच दिनों तक शिशु वार्ड में ही भर्ती रहेगा। आगे की कार्रवाई पांच दिनों के बाद प्रभारी बाल कल्याण समिति के आदेशानुसार किसी पालना गृह में रखा जाएगा।

वर्जन:

सदर अस्पताल के शौचालय से एक नवजात शिशु को बरामद किया गया है। वह वहां कैसे आया यह स्पष्ट नहीं हो पाया। मामले की जांच-पड़ताल की जा रही है।

डा. अरविद कुमार, सिविल सर्जन, साहिबगंज

Edited By: Jagran