रांची, राज्य ब्यूरो। झारखंड के थानों में अब मुंशी के पद पर सिपाही रैंक वाले नहीं रहेंगे। अब इस पद को जमादार (एएसआइ) संभालेंगे। जमादार ही थाने में लेखन कार्य करेंगे। पुलिस मुख्यालय ने इससे संबंधित आदेश सभी जिलों के एसएसपी-एसपी, रेंज डीआइजी को दिया है। पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार थानों में लेखन कार्य में लगे सिपाही (मुंशी) पर कई प्रकार के आरोप लगते रहे हैं।

इससे संबंधित शिकायतें पुलिस मुख्यालय में भी पहुंची हैं। इन्हीं शिकायतों के बाद पुलिस मैनुअल का हवाला देते हुए पुलिस मुख्यालय ने एएसआइ को मुंशी के पद पर बैठाने का निर्णय लिया है। पुलिस मैनुअल में भी एएसआइ के लिए यह निर्देश जारी है कि वह थाना प्रभारी को लेखन कार्य से मुक्त कराने के साथ-साथ चौकीदारी परेड संबंधित दैनिक कार्य में सहयोग देगा।

महिला एएसआइ को प्राथमिकता

राज्य के थानों में मुंशी के पद पर महिला एएसआइ को प्राथमिकता दी जाएगी। जहां महिला एएसआइ की कमी होगी, वहां पुरुष एएसआइ मुंशी का पद संभालेंगे।

वर्षों से जमे सिपाही-हवलदार का होगा स्थानांतरण

पुलिस मुख्यालय ने यह भी आदेश दिया है कि राज्य के थानों में वर्षों से एक ही स्थान पर प्रतिनियुक्त/पदस्थापित चालक सिपाही/हवलदार का स्थानांतरण होगा। यह शीघ्र करना है और की गई कार्रवाई से पुलिस मुख्यालय को अवगत कराना है।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस