रांची, जेएनएन। झारखंड सहित पूरे देश लॉकडाउन 3 मई तक के लिए बढ़ा दिया गया है। पीएम मोदी ने अपने संबोधन में इस बात की घोषणा की। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र माेदी ने कहा है कि 20 अप्रैल के बाद वैसे जगहों को लॉकडाउन से थोड़ी छूट दी जाएगी, जहां कोरोना का एक भी मामला सामने नहीं आया है। इस तरह से देखा जाए तो झारखंड में रांची, हजारीबाग, बाेकारो, गिरिडीह और कोडरमा को छोड़कर बाकी जिलों को 20 अप्रैल के बाद लॉकडाउन में थोड़ी छूट दी जा सकती है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कुल 24 मिनट के अपने संबोधन में कहा कि लाॅकडाउन की स्थिति में शारीरिक दूरी का पालन करें। इस दौरान अनुशासन का पालन करें। उन्‍हाेंने कहा कि हमें किसी भी कीमत पर नए जगहों पर कोरोना काे फैलने नहीं देना है। पीएम मोदी ने कहा कि नए हॉटस्‍पॉट नहीं बनने देना है। पीएम मोदी की इस बात से समझा जा सकता है कि झारखंड में रांची, बोकारो, गिरिडीह, हजारीबाग और कोडरमा को लॉकडाउन से छूट नहीं मिलने वाली है। पीएम मोदी ने कहा है‍ कि जहां हॉटस्‍पॉट नहीं बनेंगे, वहां 20 अप्रैल से कुछ जरूरी गतिविधियों में छूट मिल सकती है। हालांकि इसमें भी कई शर्तें होंगी।

पीएम मोदी ने आम लोगाें से आह्वान करते हुए कहा कि कोरोना को बढ़ने नहीं देना है और न ही किसी को कोरोना फैलाने देना है। हमें अब और अधिक सतर्कता बरतनी होगी। पीएम ने गरीब और मजदूर वर्ग की चिंता करते हुए कहा कि इनकी जिंदगी में आई परेशानी को कम करना है। उन्‍होंने कहा कि इस दौरान लोगों को रोजमर्रा की चीजें उपलब्‍ध होंगी। उन्‍होंने लोगों से आह्वान करते हुए कहा कि देश सेवा में जुट जाएं। उन्‍होंने कहा‍ कि 20 अप्रैल को मूल्‍यांकन किया जाएगा। इसके बाद कुछ छूट दी जाएगी। नए हॉटस्‍पॉट नहीं बनने देना है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा‍ कि जितना हो सके, उतना गरीब परिवार की देखरेख करें, उनके भोजन की आवश्यकता पूरी करें। आप अपने व्यवसाय, अपने उद्योग में अपने साथ काम करने वाले लोगों के प्रति संवेदना रखें, किसी को नौकरी से न निकालें। कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल App जरूर डाउनलोड करें। दूसरों को भी Aarogya Setu App को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें। पीएम ने कहा‍ कि अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें। विशेषकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें पुरानी बीमारी हो, उनकी हमें अतिरिक्‍त देखभाल करनी है, उन्हें कोरोना से बहुत बचाकर रखना है। पीएम ने कहा कि हम धैर्य बनाकर रखेंगे। नियमों का पालन करेंगे तो कोरोना जैसी महामारी को भी परास्त कर पाएंगे।

झारखंड की बात करें तो राज्‍य में 24 जिले हैं। इसमें अभी तक पांच जिले कोरोना से प्रभावित हैं। रांची, कोडरमा, हजारीबाग, गिरिडीह और बाेकारो। बाकी जिलों में अभी तक कोरोना के मामले सामने नहीं आए हैं। पीएम मोदी के अनुसार बात करें तो यदि 20 अप्रैल तक झारखंड के बाकी बचे जिले, जहां अभी तक कोरोना के एक भी मामले सामने नहीं आए हैं, वहां लॉकडाउन में कुछ शर्तों के साथ छूट दी जाएगी। यहां बता दें कि झारखंड में कोरोना के अब तक 24 मामले सामने आए हैं। इसमें दो की मौत हो गई है। 24 मामले रांची, बोकारो, गिरिडीह, हजारीबाग और कोडरमा में सामने आए हैं।

इधर, लाॅकडाउन बढ़ने पर सोशल मीडिया पर कमेंट्स की बाढ़ आ गई है। ट्विटर पर एक यूजर ने लिखा है‍ कि लॉकडाउन 30 अप्रैल के बजाय 3 मई तक बढ़ाया गया है। राज्‍यों ने 30 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाया है जबकि केंद्र ने 3 मई तक। एक मई को मजदूर दिवस की सार्वजनिक छुट्टी है, जबकि दो और तीन मई को शनिवार- रविवार है।

मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने लॉकडाउन बढ़ाए जाने पर कहा कि कोरोना से लड़ने के लिए लॉकडाउन का बढ़ना जरूरी है। हमें इसका सख्ती से पालन करना है। झारखंड सरकार राज्य में सामाजिक सुरक्षा सुदृढ़ करने के साथ बाहर रह रहे श्रमिक भाईयों-बहनों के लिए भी डीबीटी के माध्यम से जल्द मदद पहुँचाने हेतु काम कर रही है। सुरक्षित रहें, अफवाहों पर ध्यान न दें।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस