रांची, (ड‍िज‍िटल डेस्‍क) : बुधवार को तमिलनाडु में भारतीय सेना का एक एमआइ हेलीकाप्‍टर दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से भारतीय सेना के सीडीएस जनरल ब‍िप‍िन रावत की मौत हो गई है। इस हादसे में 13 लोगों की मौत की बात कही जा रही है। इस दुखद हादसे ने झारखंड समेत पूरे देश को झकझोर कर रख द‍िया है। झारखंड के व‍िभ‍िन्‍न ज‍िलों में हर समुदाय के लोगों ने भारतीय सेना के अध‍िकार‍ियों की मौत पर गहरा दुख जताया है।

बताया जा रहा क‍ि हेलीकाप्‍टर में सीडीएस जनरल बिपिन रावत के अलावा उनकी पत्नी मधुलिका रावत भी मौजूद थीं। हादसे के बाद बुरी तरह जल गए सभी लोगों को पास के ही सेना के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया। स्‍थ‍ित‍ि यह है क‍ि शवों की श‍िनाख्‍त के ल‍िए डीएनए जांच की बात कही जा रही है। एमआइ-17 वी5 नामक इस हेलीकाप्‍टर के दुर्घटनाग्रस्‍त होने के कारणों की जांच के ल‍िए भारतीय वायु सेना ने आदेश दे द‍िया है।

राजधानी रांची के धुर्वा के रहने वाले कारोबारी अम‍ित त‍िवारी ने घटना पर दुख जताते हुए कहा क‍ि भारतीय सेना ही नहीं पूरे देश के ल‍िए यह दुखद क्षण है। जनरल ब‍िप‍िन रावत सेना अध‍िकारी होने के साथ साथ एक अच्‍छे इंसान भी थे। भारतीय सेना को उन्‍होंने जो योगदान द‍िया है, उसे हमेशा याद रखा जाएगा।

हजारीबाग के सामाज‍िक कार्यकर्ता आलोक नाथ ने कहा क‍ि तमिलनाडु के कुन्‍नूर में हेलीकाप्‍टर क्रैश की इस घटना ने पूरे देश को झकझोर कर रख द‍िया है। पूरा देश दुख की इस घड़ी में भारतीय सेना के साथ खड़ा है। उन्‍होंने अपनी जान गंवा देने वाले भारतीय सेना के जवानों को श्रद्धांजल‍ि दी है। कहा क‍ि उनके पर‍िवार को ईश्‍वर दुख सहने की शक्‍त‍ि प्रदान करे।

पूर्वी स‍िंंहभूम ज‍िले के जमशेदपुर शहर के रहने वाले डाक्‍टर एके चटर्जी ने कहा क‍ि दोपहर जैसे ही हेलीकाप्‍टर दुर्घटनाग्रस्‍त होने की सूचना मीड‍िया में आई, द‍िल दहल उठा। तब ऐसी उम्‍मीद नहीं थी क‍ि भारतीय सेना के इतने वीर अपनी जान गंवा देंगे। जनरल ब‍िप‍िन रावत न केवल बहादुर फौजी थे, बल्‍क‍ि नेक इंसान भी थे।

पश्‍च‍िमी स‍िंंहभूम ज‍िले के चाईबासा के रहने वाले सामाज‍िक कार्यकर्ता अजीत कुमार ने कहा क‍ि जैसे ही भारतीय वायु सेना ने ट्वीट कर बताया क‍ि इस दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना में जनरल बिपिन रावत उनकी पत्‍नी समेत 13 अध‍िकार‍ियों की मौत हो गई है, मन उदास हो गया। हादसे के क्षण से ही जनरल ब‍िप‍िन रावत का दमकता चेहरा आंखों के सामने तैर रहा है। चीन और पाक‍िस्‍तान को चेतावनी देने का उनका अंदाज न‍िराला था। वह बहादुर थे। हमेशा याद आएंगे।

कोडरमा ज‍िले के रहने वाले अनूप कुमार पांडेय एक प्राइवेट कंपनी में काम करते हैं। उन्‍होंने इस घटना पर दुख जाताते हुए कहा क‍ि जैसे ही सूचना म‍िली की सेना का हेलीकाप्‍टर हादसे का श‍िकार हो गया है, इंटरनेट और टीवी पर खबरें तलाशने लगे। भारतीय सेना में जनरल ब‍िप‍िन रावत के योगदान को पूरा देश हमेशा याद रखेगा।

उधर, झारखंड के राज्‍यपाल रमेश बैस, पर‍िवहन मंत्री चंपई सोरेन, स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री बन्‍ना गुप्‍ता और पूर्व मुख्‍यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने भी इस घटना पर दुख जताया है। मृत आत्‍माओं के प्रत‍ि शोक प्रकट करते हुए उनके स्‍वजन को दुख सहने की ईश्‍वर से प्रार्थना की है। बाबूलाल मरांडी ने कहा क‍ि इस घटना से पूरा देश दुखी है। वहीं, चंपई सोरेन ने एक टवीट कर कहा है कि भारत के पहले चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत जी के निधन की दुखद खबर मिली है। ईश्‍वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें। स्‍वजन को यह दुःख सहने की शांति दें। ॐ शांति।

उधर, मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने तमिलनाडु के कुन्नूर में सेना के हेलीकॉप्टर हादसे में सीडीएस जनरल बिपिन रावत एवं उनकी धर्मपत्नी मधुलिका रावत सहित अन्य अधिकारियों के असामयिक निधन पर गहरा दु:ख एवं शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने ईश्वर से शोक संतप्त परिवारों को इस भीषण दु:ख को सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की है।

Edited By: M Ekhlaque