रांची, जागरण संवाददाता। Jharkhand Crime News : रांची सिल्ली थाना क्षेत्र के बुरुडीह गांव से पिछले 28 दिसंबर से गायब नाबालिग का शव पुलिस ने बरामद कर लिया है। नाबालिग की गला दबा कर हत्या करने के बाद बुरुडीह के जंगली इलाके में मिट्टी छिपा दिया था। पुलिस ने घटना में शामिल चार अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्त में आये आरोपितों में सिल्ली के चांगरू निवासी करमापाल मुंडा, लखिंद्र लोहरा, नामकुम निवासी कार्तिक मुंडा और राहुल मुंडा शामिल है।

मास्टमाईंड करमापाल मुंडा ने बनाई हत्या की योजना

हत्या का मास्टमाईंड करमापाल मुंडा है। उसी ने हत्या की योजना बनाई थी। नाबालिग के पिता संबद सिंह मुंडा ने 14 जनवरी को बेटी के अपहरण की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। आशंका जताया था कि उसकी बेटी की हत्या कर दी गई है। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद सिल्ली डीएसपी क्रिस्टोफर केरकेट्टा के नेतृत्व में एसआइटी ने हत्या का खुलासा कर लिया।

ये भी पढ़े

रांची क्राइम : रिलेशनशिप में रहकर कर दी ऐसी हालत, अब शादी से इंकार, आए सोने की जेवर साफ करने उड़ा ले गए जेवरात

पिछले एक साल से चल रहा था प्रेम प्रसंग

गिरफ्त में आये आरोपितों में हत्या में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है। इसकी जानकारी बुधवार को ग्रामीण एसपी नौशाद आलम ने दी। पुलिस के अनुसार करमापाल मुंडा शादीशुदा है। उसका गांव के नजदीक रहने वाली नाबालिग से पिछले एक साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था।

लड़की लगातार करमापाल पर शादी का डाल रहा था दबाव

इस बीच लड़की लगातार करमापाल पर शादी का दबाव डाल रहा था। दोबारा शादी करने से परिवार में विवाद की आशंका को देखते हुए करमापाल ने अपने दो साले कार्तिक मुंडा और राहुल मुंडा के साथ हत्या की योजना बनायी। हत्या के बाद चारों आरोपितों ने मिलकर जंगल में शव को गाड़ दिया।

ये भी पढ़े

रांची में दोस्त की पत्नी का अपहरण कर पिस्टल का भय दिखाकर किया दुष्कर्म, फिर बना लिया वीडियो

Edited By: Sanjay Kumar