रांची, राज्य ब्यूरो। ED Raid on Dahu Yadav 1000 करोड़ के अवैध खनन मामले में मनी लांड्रिंग के तहत अनुसंधान कर रही ईडी ने पंकज मिश्रा के सहयोगी दाहू यादव के ठिकानों पर गुरुवार को छापेमारी शुरू की है। पंकज मिश्रा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के बरहेट विधानसभा क्षेत्र का विधायक प्रतिनिधि है।

स्वीटी पैलेस को सील कर सकती है ईडी

ईडी के अधिकृत सूत्रों के अनुसार, शाम तक दाहू यादव के कब्जे वाली स्वीटी पैलेस को ईडी सील कर सकती है।

पूर्व में ईडी ने इस मामले में दाहू यादव को 4-4 समन कर पूछताछ के लिए रांची बुलाया था। लगातार समन के बावजूद वही ईडी के दफ्तर में उपस्थित नहीं हुआ। अंतिम बार वह 18 जुलाई को ईडी के दफ्तर में पहुंचा था उसके बाद नहीं आया।

दाहू यादव पर पत्थर व बालू के अवैध कारोबार का आरोप

ईडी ने उसके विरुद्ध कार्रवाई करते हुए उसके मालवाहक जहाज को जब्त किया था, जिसकी कीमत 30 करोड़ बताई गई थी। आरोप है कि दाहू यादव अवैध तरीके से पत्थर व बालू को अपने मालवाहक जहाज से साहिबगंज से गंगा नदी के रास्ते बिहार और बंगाल भेजा करता था। जहाज की जब्ती के बाद ईडी ने साहिबगंज पुलिस को प्राथमिकी दर्ज करने की अनुशंसा की थी।

चार्जशीट में ईडी ने दाहू यादव को बताया है पंकज मिश्रा का सबसे करीबी

रांची स्थित ईडी की विशेष अदालत में पंकज मिश्रा पर दाखिल चार्जशीट में यह खुलासा किया है कि पंकज मिश्रा अपने प्रभाव के बल पर दाहू यादव, बच्चू यादव आदि के सहयोग से साहिबगंज क्षेत्र में अवैध पत्थर खनन हुआ परिवहन कराता था। ईडी ने लंबी छानबीन के बाद यह निष्कर्ष निकाला कि साहिबगंज क्षेत्र में 1000 करोड़ रुपये का अवैध पत्थर खनन हुआ है। अवैध खनन की राशि नेताओं व नौकरशाहों तक भी पहुंचा है। छानबीन के दौरान ही ईडी ने पंकज मिश्रा व बच्चू यादव को गिरफ्तार कर जेल भेजा था।

Edited By: Sanjay Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट