Move to Jagran APP

Jharkhand News: हजारीबाग का रहने वाला ISIS आतंकी दिल्ली से गिरफ्तार, NIA ने घोषित कर रखा था तीन लाख का इनाम

Isis Terrorist Arrested देश में ISIS के नेटवर्क को खंगाल रही NIA के मोस्ट वांटेड तीन आंतकी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने गिरफ्तार किया है। इन तीनों कुख्यात आतंकियों की गिरफ्तारी दिल्ली से हुई है। एनआईए ने तीनों आतंकी पर तीन लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। इसमें से आतंकी शाहनवाज उर्फ शफी उज्जमा हजारीबाग का रहने वाला है।

By Dilip KumarEdited By: Shashank ShekharPublished: Mon, 02 Oct 2023 09:15 PM (IST)Updated: Mon, 02 Oct 2023 09:15 PM (IST)
हजारीबाग का रहने वाला ISIS आतंकी दिल्ली से गिरफ्तार, NIA ने घोषित कर रखा था तीन लाख का इनाम

राज्य ब्यूरो, रांची। देश में सक्रिय आतंकी संगठन आईएसआईएस मॉड्यूल को खंगाल रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के तीन कुख्यात आतंकियों को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दिल्ली में गिरफ्तार किया है।

गिरफ्तार आतंकियों में शहनवाज सफीउज्जमा आलम उर्फ सफीउज्जमा उर्फ अब्दुल्ला के अलावा रिजवान अब्दुल हाजी अली व मोहम्मद अरशद वारसी शामिल हैं। मुंबई में इसी साल दर्ज केस आरसी/05/2023/मुंबई में तीनों को फरार घोषित करते हुए एनआईए ने तीन-तीन लाख रुपये का इनाम रखा था।

इन आतंकियों पर पुणे के जंगल में बम विस्फोट का ट्रायल करने के मामले में केस दर्ज हुआ था। एनआईए ने मोहम्मद शहनवाज के ठिकाने से पिस्टल, आइईडी बनाने के सामान, विस्फोटक, केमिकल, जेहादी व बम बनाने का साहित्य आदि बरामद किया था।

विस्फोट करने की बना रहे थे योजना 

इनकी योजना देश में आतंक फैलाने की थी। ये उत्तर भारत को अशांत करने के लिए जगह-जगह बम विस्फोट की योजना बना रहे थे। इन तीनों ही आतंकियों की तलाश जारी थी। इसी बीच इनके दिल्ली में छुपे होने की सूचना पर छापेमारी हुई और तीनों पकड़े गए।

गिरफ्तार शहनवाज सफीउज्जमा आलम मूल रूप से झारखंड के हजारीबाग जिले के पेलावल स्थित पगमिल का निवासी है। उसका पासपोर्ट रांची में 31 अक्टूबर 2016 को बना था, जिसकी वैधता 30 अक्टूबर 2026 तक है। पासपोर्ट में उसकी जन्मतिथि पांच मार्च 1993 है।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने मोहम्मद शहनवाज के दूसरे साथी जिस मोहम्मद अरशद वारसी को गिरफ्तार किया है, उसका भी झारखंड कनेक्शन बताया जा रहा है। उसने मैकेनिकल इंजीनियरिंग की है। वहीं, तीसरा सहयोगी रिजवान अब्दुल हाजी अली कंप्यूटर साइंस में बीटेक किया है।

कर्नाटक से माइनिंग इंजीनियरिंग कर चुका है शहनवाज

गिरफ्तार शहनवाज बेंगलुरु के विश्वसरैया इंस्टीच्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी से माइनिंग इंजीनियरिंग कर चुका है। माइनिंग इंजीनियर होने के चलते उसे बम ब्लास्ट का ज्ञान है। उसने बम बनाने के कई प्रयोग भी किए। 2020 में लूटकांड के एक मामले में वह हजारीबाग से जेल गया था।

जेल से छूटने के बाद वह पुणे चला गया था। पुणे में मीठानगर कोंधवा के चेतना गार्डेन में रहता था। यहां वाहन चोरी करते उसके साथी इमरान व युसूफ पकड़े गए थे, लेकिन वह भाग निकला था।

बाद में जब पुणे पुलिस ने छानबीन की तो पता चला कि वह वाहन चोर नहीं, बल्कि बड़ा आतंकी है। इमरान व युसूफ पर पांच-पांच लाख का इनाम था। उनकी चितौड़गढ़ ब्लास्ट में जांच एजेंसी को तलाश थी। पुणे के जंगल में बम ब्लास्ट का ट्रायल करने में उसका नाम जुड़ा और फिर एनआइए उसकी तलाश में जुटी थी।

मोस्ट वांटेड आतंकी शहनवाज ने पुणे में रहने के दौरान गुजरात की महिला बसंती पटेल से शादी की। उसका धर्मांतरण करवाया और उसका नाम मरियम रखा। फिलहाल, मरियम फरार है और उसकी तलाश चल रही है।

18 जुलाई को लोहरदगा से पकड़ा गया था फैजान

आईएसआईएस के भारत मॉड्यूल से जुड़े दो आतंकियों को एनआईए ने हाल ही में गिरफ्तार किया था। इनमें 18 जुलाई को झारखंड के लोहरदगा का फैजान व कुछ दिन पहले ही मध्य प्रदेश के रतलाम का ओमर उर्फ राहुल सेन गिरफ्तार हुआ था।

यह भी पढ़ें: Heavy Rain in Garhwa: बारिश ने किसानों के अरमानों पर फेरा पानी, तिलहन-सब्जी की खेती को हो सकता है भारी नुकसान

फैजान अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पढ़ता था। वहीं विश्वविद्यालय परिसर के एक लॉज में रहता था, जहां से वह इंटरनेट मीडिया के माध्यम से युवाओं को आईएसआईएस से जोड़ने की मुहिम चला रहा था।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शहनवाज के दूसरे साथी जिस मोहम्मद अरशद वारसी को गिरफ्तार किया है, उसका भी झारखंड कनेक्शन बताया जा रहा है। वह भी अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय से पढ़ा है। उसने मैकेनिकल इंजीनियरिंग से बीटेक की है और वर्तमान में जामिया से पीएचडी कर रहा था।

यह भी पढ़ें: Jharkhand Politics: JMM का 4 से 10 अक्टूबर तक चलेगा सदस्यता विशेष अभियान, पार्टी पर्यवेक्षकों को मिली ये टास्क


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.