रांची, जेएनएन। Lok Sabha Election 2019 - पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सोमवार को अपनी पत्नी के साथ गले में झामुमो का पट्टा डाल वोट डालने पहुंचे। भाजपा ने इसे आचार संहिता के उल्लंघन का मामला बताते हुए कड़ी आपत्ति दर्ज कराई है। पार्टी ने इसकी शिकायत मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से करते हुए हेमंत के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

आयोग को दर्ज शिकायत में भाजपा ने कहा कि हेमंत सोरेन अपनी पत्नी के साथ झामुमो का पट्टा गले में डालकर मतदान के लिए कतार में खड़े मिले। टीवी चैनलों ने इसका प्रसारण भी किया। यह चुनाव आचार संहिता का घोर उल्लंघन है। उन्होंने मतदाताओं को अपने पक्ष में मतदान करने के लिए प्रत्यक्ष ढंग से प्रभावित किया। भाजपा ने इस मामले में संज्ञान लेकर प्राथमिकी दर्ज करते हुए त्वरित कानूनी कार्रवाई का अनुरोध आयोग से किया है।
हेमंत का यह कहना कि उन्हें जानकारी नहीं हास्यापद
भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने इस मामले में हेमंत सोरेन के स्तर से दी गई सफाई को हास्यापद बताया है। प्रतुल ने कहा कि हेमंत सोरेन यह कह बच नहीं सकते। हेमंत पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके हैं। उन्होंने चुनाव के दिन बूथ के भीतर और बाहर पार्टी का सिंबल वाला पट्टा लगाकर अपनी पार्टी का प्रचार करने का प्रयास किया है। चुनाव आयोग को इस पर संज्ञान ले कर कार्रवाई करनी चाहिए।
यदि चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन होता तो कोई मुझे रोकता। मुझे किसी ने बताया भी नहीं इस प्रकार मतदान केंद्र में मतदान के लिए नहीं जा सकते। -हेमंत सोरेन, पूर्व मुख्यमंत्री सह झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष।
मै समझता हूं कि गले में पट्टा डालकर जाना गलत नहीं है चूंकि इस फेज में झामुमो का कोई उम्मीदवार नहीं था। पहले भी कई जगहों पर उम्मीदवार स्कार्फ पहने देखे गए हैं। -एल खियांग्ते, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021