Move to Jagran APP

Hemant Soren Cabinet: मंत्रियों ने लिया पदभार, बचे हुए समय में लंबित योजनाओं को पूरा करने पर जोर

हेमंत सोरेन कैबिनेट के ज्यादातर मंत्रियों ने पदभार ग्रहण लिया है। विधानसभा चुनाव भी पास हैं इसलिए सभी मंत्रियों ने काम भी शुरू कर दिया है। मंत्रियों का बचे हुए समय में लंबित योजनाओं को पूरा करने पर जोर है। पदभार ग्रहण करने के बाद अधिसंख्य मंत्रियों ने कहा कि विधानसभा के बची हुई अवधि में वे राज्य सरकार की लंबित योजनाओं को पूरा करने का प्रयास करेंगे।

By Manoj Singh Edited By: Rajat Mourya Wed, 10 Jul 2024 08:58 AM (IST)
Hemant Soren Cabinet: मंत्रियों ने लिया पदभार, बचे हुए समय में लंबित योजनाओं को पूरा करने पर जोर
शपथ ग्रहण समारोह में झारखंड के सभी मंत्री। (फोटो- ANI)

राज्य ब्यूरो, रांची। Hemant Soren Cabinet मंत्रिमंडल विस्तार के बाद मंगलवार को अधिसंख्य मंत्रियों ने अपना पदभार ग्रहण कर लिया। पदभार ग्रहण करनेवालों में मंत्री चंपई सोरेन, बन्ना गुप्ता, रामेश्वर उरांव, बन्ना गुप्ता, मिथिलेश ठाकुर, सत्यानंद भोक्ता, बैद्यनाथ राम, दीपिका पांडेय सिंह आदि ने प्रमुख हैं।

पदभार ग्रहण करने के बाद अधिसंख्य मंत्रियों ने कहा कि विधानसभा के बची हुई अवधि में वे राज्य सरकार की लंबित योजनाओं को पूरा करने का प्रयास करेंगे। वे अल्प अवधि के अपने कार्यकाल में ही जनता के हित में बेहतर काम कर दिखाएंगे।

इस मौके पर विभागीय सचिव एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। इधर, अल्पसंख्यक कल्याण, पर्यटन एवं कला संस्कृति तथा नगर विकास विभाग के मंत्री हफीजुल हसन बुधवार को सुबह 11 बजे पदभार ग्रहण करेंगे।

प्रत्येक पंचायत में लगाए जाएंगे 15 हैंडपंप: मिथिलेश ठाकुर

पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने नेपाल हाउस स्थित अपने कार्यालय में पदभार संभालने के बाद कहा कि राज्य ने राजनीतिक झंझावत झेला है। विपक्षियों की साजिश के चलते हेमंत सोरेन जेल चले गए और पांच वर्षों में तीसरी बार सरकार का गठन हुआ है। उनका विभाग लोगों को शुद्ध जल उपलब्ध कराने की योजना पर काम कर रहा है।

अभी तक 53 प्रतिशत घरों को नल के जरिए जल पहुंचा दिया गया है। इसके लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार की ओर से समान राशि दी जाती है। सभी पंचायतों में 15 हैंडपंप लगाने की योजना है। जिस पर काम चल रहा है।

विभाग में कार्य करने वाली कंपनियों के गड़बड़ी के संबंध में मिथिलेश ठाकुर ने कहा कि काली सूची में ही कंपनियों को डालने से समाधान नहीं होगा। सरकार को देखना होगा कि उक्त कंपनी कोई अन्य कार्य तो नहीं कर रही है और उसकी जांच की जाएगी ताकि दूसरी बार ऐसी घटनाएं नहीं हो। जल मीनार गिरने के सवाल पर भी उन्होंने कहा कि अनदेखी करने वाले अभियंता पर कार्रवाई की जाएगी।

सभी श्रेणी के अस्पतालों में बेहतर व्यवस्था के लिए 100 करोड़ : बन्ना

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने नेपाल हाउस स्थित अपने कार्यालय कक्ष में पदभार ग्रहण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सभी श्रेणी के अस्पतालों एवं स्वास्थ्य केंद्रों में व्यवस्था दुरुस्त की जा रही है। इसके लिए 100 करोड़ रुपये का बजट प्रविधान किया गया है। इस राशि से अस्पतालों की सभी छोटी-मोटी बुनियादी जरूरतों को उसी स्तर पर पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए विभागीय स्तर की लंबी चौड़ी प्रक्रिया से नहीं गुजरना होगा. वहीं, मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा देने के लिए सरकार प्रतिबद्ध है।

समय कम, लेकिन दूर करेंगे किसानों की समस्या : दीपिका

कृषि, पशुपालन एवं सहकारिता विभाग की मंत्री दीपिका पांडेय सिंह ने नेपाल हाउस स्थित अपने कार्यालय में पदभार ग्रहण करने के बाद कहा कि समय कम है, लेकिन किसानों की समस्या को जल्द से दूर किया जाएगा। सुखाड़ और फसल नुकसान होने से परेशान किसानों को मुआवजा देने, कृषि में नई तकनीक का इस्तेमाल करते हुए उन्नत खेती और समर्थन मूल्य बढ़ाने की उनकी प्राथमिकता होगी।

विभाग से जुड़े कई संगठन अपनी मांगों को लेकर परेशान हैं। उनकी समस्या का भी समाधान करने का प्रयास होगा। राज्य में खेती के लिए किसान सिंचाई पर ज्यादा निर्भर हैं। इसलिए इस विभाग से समन्वय बनाकर किसानों को राहत देने की कोशिश की जाएगी।

दूसरे विभाग में ट्रांसफर ले लें काम नहीं करनेवाले अधिकारी : इरफान

ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री इरफान अंसारी ने प्रोजेक्ट भवन में पदभार ग्रहण करने के बाद कहा कि उनका विभाग जनता से जुड़ा हुआ विभाग है। ईडी की कार्रवाई के बाद विभाग में काम बंद है। लेकिन पिछले घटनाक्रम से उन्हें कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया है, जो अच्छा काम करेंगे वे विभाग में बने रहेंगे, लेकिन अगर कोई काम नहीं करना चाहता है, तो वह दूसरे विभाग में ट्रांफसर ले ले।

उन्होंने कहा कि किसी को डरने की जरूरत नहीं है। विभागीय अधिकारी अच्छा काम करें, ताकि जनता को सीधा लाभ मिले। दस दिन में सड़कों का डीपीआर बने और तत्काल काम शुरू भी हो जाए। उन्होंने कहा कि वे विभाग में बाहरी दखल बर्दाश्त नहीं करेंगे।

सरकारी स्कूलों में दूर होगी शिक्षकों की कमी : बैद्यनाथ

राम स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग के मंत्री बैद्यनाथ राम ने अपने आवास पर पदभार ग्रहण किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि वे पहले भी शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी संभाल चुके हैं। संयोग से एक बार फिर उन्हें यह विभाग मिला है।

उन्होंने स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति को अपनी प्राथमिकता बताई। दरअसल, चम्पाई सोरेन सरकार में स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग में मंत्री का कार्यालय कल्याण मंत्री दीपक बिरूआ को आवंटित किया गया था। अब उन्हें अलग कार्यालय आवंटित किया जाएगा।

ये भी पढ़ें- Jharkhand News: खनन विस्थापितों का डाटा तैयार कराएगी हेमंत सरकार, विस्थापन आयोग को कैबिनेट से मिली मंजूरी

ये भी पढ़ें- झारखंड में BJP के साथ 'खेला' करेंगे सरयू राय? इस कद्दावर नेता को अपनी पार्टी में करा सकते हैं शामिल