रांची, राज्य ब्यूरो। अशोक आर नाथ निर्देशित मूक समलैंगिक फिल्म होली वाउंड पर झारखंड में विरोध हो रहा है। झारखंड हाई कोर्ट में याचिका दाखिल कर इस फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने का आग्रह किया गया है। फिलहाल इस फिल्म का सिर्फ ट्रेलर जारी किया गया। इस संबंध में सिथारा जाय और लिली जार्ज की ओर से दाखिल याचिका में कहा गया है कि फिल्म धार्मिक भावनाओं को आहत करती है। सिनेमैटोग्राफ अधिनियम का उल्लंघन करते हुए इसका निर्माण किया गया है। याचिका में फिल्म सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, फिल्म निर्माता एवं अन्य को प्रतिवादी बनाया गया है।

फिल्म के विरोध में हाईकोर्ट में याचिका दाखिल

यह याचिका अधिवक्ता शुभाशीष सोरेन के माध्यम से दाखिल की गई है। याचिकाकर्ता ने फिल्म में चुंबन दृश्य पर आपत्ति जताई है। इस दृश्य में नन की तरह कपड़े पहने एक कलाकार को किस करते हुए दिखाया गया है। याचिकाकर्ता ने तर्क दिया है कि इस तरह का दृश्य ईसाइयों की धार्मिक भावनाओं को आहत करता है। इसे देखने से लगेगा कि नन भी इस तरह के रिश्ते में रह सकती हैं। जबकि उनका एक अनुशासन होता है। इसको लाइसेंस देने के लिए सिनेमैटोग्राफी अधिनियम की सारी प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया गया है। हालांकि अभी पूरी फिल्म जारी नहीं हुई है। निर्माताओं के अनुसार नाटक का उद्देश्य समलैंगिक संबंधों को सामान्य बनाना है। होली वाउंड दो पात्रों पर केंद्रित है जो बचपन से प्यार में हैं और अलगाव के बाद वर्षों बाद फिर से मिलते हैं।

Edited By: Madhukar Kumar