रांची, जासं। Ranchi Coronavirus News Update राजधानी रांची में रविवार को कोरोना के एक मरीज की मौत हो गई। हिंदपीढ़ी निवासी कोरोना पीड़ित की मौत के बाद शव को दफनाने को लेकर रविवार को विवाद शुरू हो गया है। बड़ी संख्‍या में लाेग सड़क पर उतरे और शव काे दफनाने का विरोध जताया। विरोध करने वालों की भीड़ लगातार बढ़ रही है। पुलिस मौके पर मौजूद है। सबसे पहले रांची के बड़गाई में कब्र खोदी गई। वहां विरोध करने पर पुलिस प्रशासन बरियातू के जोड़ा तालाब के पास स्थित कब्रिस्तान पहुंची। वहां भी स्थानीय लोगों ने विरोध शुरू कर दिया। इसके बाद रातू रोड कब्रिस्तान में शव दफनाने की तैयारी शुरू की गई। वहां भी स्थानीय लोग शव दफनाने के विरोध में उतर गए।

कोरोना संक्रमित की मौत के बाद शव दफनाने के लिए बड़गाई में कब्र खोदा गया था। वहां विरोध करने पर पुलिस प्रशासन जोड़ा तालाब के पास स्थित कब्रिस्तान पहुंची। वहां भी स्थानीय लोगों ने विरोध कर दिया। अब रातू रोड कब्रिस्तान में शव दफनाने की तैयारी चल रही है। हालांकि खबर है कि वहां भी स्थानीय लोग विरोध की तैयारी में हैं। हर जगह विरोध करने वालों का कहना है कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति का शव किसी सुनसान जगह में दफनाया जाए। अभी भी स्‍थानीय लोगों से बातचीत चल रही है। मृत व्‍यक्ति कोरोना का मरीज था। आज सुबह ही उसकी रिम्‍स में मौत हुई। उसकी पत्‍नी भी कोरोना मरीज है। इसके परिवार में पांच लोग कोरोना से संक्रमित हैं।

सुनसान जगह दफनाया जाए शव

विरोध करने वालों का कहना है कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति का शव किसी सुनसान जगह में दफनाया जाए। शव को दफनाने को लेकर हंगामा हो ‌रहा है। मौके पर भारी संख्‍या में पुलिस बल मौजूद है। लोगों को समझा-बुझाकर घर लौटने के लिए कहा जा रहा है। स्थानीय लोगों व पुलिस के बीच इस बात को लेकर बहस हो रही है। मौके पर एडीएम लॉ एंड आर्डर, सिटी एसपी, ट्रैफिक एसपी सहित अन्य अधिकारी लोगों को समझा बुझाकर वापस जाने की अपील कर रहे हैं। रातू रोड कब्रिस्तान के पीछे वाली सड़क को भी लोगों ने घेर रखा है। हंगामा बढ़ता देख प्रशासन ने यहां शव नहीं दफनाए जाने की बात कही है। शव कहां दफनाया जाएगा, इसपर विचार किया जा रहा है। लोगों की मांग पर कब्रिस्तान को सील किया जा रहा है। विरोध के बीच प्रशासन की सहमति बनी। इसके बाद लोग माने। अनाउंसमेंट कर लोगों को वापस भेजा जा रहा है।

कोरोना मृतक का शव फिलहाल रिम्स में ही है। शव को रातू रोड स्थित कब्रिस्तान में ले जाने की तैयारी चल रही है। रिम्स के आइसोलेशन में भर्ती मृतक के बेटों को भी जिला प्रशासन की ओर से ले जाने की अनुमति दी गई है। जानकारी के अनुसार बेटों को रिम्स से पीपीई किट पहनाकर अलग से एंबुलेंस में रातू रोड स्थित कब्रिस्तान तक ले जाया जाएगा।

इसी एंबुलेंस में कोरोना मृतक का शव है। एंबुलेंस के बाहर बैठा ड्राइवर।

Edited By: Sujeet Kumar Suman