रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Coronavirus News झारखंड में शुक्रवार को तीन कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। ये सभी  हिंदपीढ़ी के रहने वाले हैैं। इन तीनों मरीजों में हिंदपीढ़ी की एक महिला मरीज भी शामिल है, जिसका तीन दिन पहले रांची सदर अस्पताल में प्रसव हुआ था। इस महिला के संक्रमित मिलने के बाद अब सीएम से लेकर सिविल सर्जन तक पर कोरोना संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। साथ ही अस्पताल के सभी चिकित्सक, नर्स आदि भी जांच के घेरे में आ गए हैं। दरअसल महिला के भर्ती रहने के दौरान रांची सिविल सर्जन डॉ. वीबी प्रसाद ने भी किचन के उन्हीं कर्मचारियों के हाथ से भोजन किया था, जो लगातार महिला की तीमारदारी में जुटे थे।

वहीं शुक्रवार को सिविल सर्जन लंबे समय तक हिंदपीढ़ी के आठ हजार लोगों के लिए मुख्यमंत्री आहार के राशन किट वितरण समारोह में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और रांची के उपायुक्त राय महिमापत रे के करीबी संपर्क में थे। इस कारण सीएम हेमंत सोरेन से लेकर रांची उपायुक्त, एसएसपी और इस कार्यक्रम में मौजूद दर्जनभर से अधिक अधिकारियों पर भी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है। ऐसे में अगर सिविल सर्जन संक्रमित पाए गए तो खतरे का दायरा बहुत बड़ा हो सकता है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार कार्यक्रम के दौरान कई मौके ऐसे आए जब सीएम, उपायुक्त, सिविल सर्जन और अन्य अधिकारियों के बीच का फासला काफी कम था। इसे लेकर अब पूरे सरकारी अमले की चिंता बढ़ गई है।

झारखंड में कोरोना के 32 पॉजिटिव केस, 2 की मौत 

तीन नए मरीजों के साथ झारखंड में अब कोराना मरीजों की संख्या बढ़कर 32 हो गई है। रांची की बात करें तो यहां कोरोना पीडि़तों की संख्या 17 तक पहुंच गई है। इस तरह, झारखंड का यह जिला पहली बार लार्ज आउटब्रेक के हॉट स्पॉट (रेड जोन) जिले में शामिल हो गया है। रांची जिला अभी तक क्लस्टर के साथ हॉट स्पॉट की श्रेणी में था। 15 से अधिक मरीज होने पर किसी जिले को लार्ज आउटब्रेक वाले हॉट स्पॉट जिले में शामिल कर लिया जाता है। शुक्रवार को संक्रमित पाए गए मरीजों में दो का पता आजाद बस्ती दर्ज है,  लेकिन ये दोनों आठ माह पहले हिंदपीढ़ी में शिफ्ट हो गए थे।

झारखंड में सात दिनों से लगातार नए मरीज मिल रहे हैं। वहीं एक सप्ताह में झारखंड में कुल 18 नए मरीज मिले हैं। सबसे अधिक चिंता अन्य जिलों में भी संक्रमण फैलने को लेकर है। इस सप्ताह दो नए जिलों सिमडेगा और धनबाद में भी संक्रमण मिला। इससे पहले रांची, बोकारो, गिरिडीह और हजारीबाग में संक्रमण के मामले मिल चुके हैैं। अब तक सबसे अधिक 17 मरीज रांची में मिले हैैं, जबकि बोकारो में नौ, गिरिडीह और हजारीबाग में दो-दो तथा धनबाद और सिमडेगा में एक-एक मरीज मिले हैैं।

इनमें रांची और बोकारो में एक-एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है।  बोकारो में 6 पुरुष और 3 महिलाएं कोरोना संक्रमण की शिकार हुई हैं। यहां चंद्रपुरा प्रखंड के तेलों गांव में तीन महिलाएं और दो पुरुषों को पॉजिटिव पाया गया है। जबकि गोमिया में चार पुरुषों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसमें से एक संक्रमित कोरोना मरीज की मौत हो चुकी है। इधर कोरोना के बढ़ते मामलों को देख राज्य सरकार ने स्क्रीनिंग और जांच तेज कर दी है। नए मरीजों के इलाकों को लगातार सील कर उनसे संबंधित लोगों को क्वारंटाइन कर जांच कराई जा रही है। 

कोरोना वायरस का बढ़ता खतरा

  1. सिविल सर्जन संक्रमित मिले तो बड़ा हो सकता है संक्रमण का दायरा
  2. रांची सदर अस्पताल के कई चिकित्सक, नर्स, कर्मी भी जांच के घेरे में
  3. रांची के हिंदपीढ़ी में शुक्रवार को मिले हैैं तीन नए कोरोना पॉजिटिव
  4. लार्ज आउटब्रेक के हॉट स्पॉट में शामिल हो गया रांची जिला
  5. दो दिन पहले मां बनी महिला को कोरोना, रांची केे सिविल सर्जन भी खतरे में
  6. शुक्रवार को दिनभर सीएम के कार्यक्रम में थे सिविल सर्जन, कई आला अधिकारी भी थे मौजूद

शुक्रवार को 411 लोगों की हुई जांच 

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार, शुक्रवार को कुल 411 लोगों की जांच हुई। इनमें से तीन की रिपोर्ट पॉजीटिव आई, जबकि 200 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। शेष की रिपोर्ट खबर लिखे जाने तक नहीं आ पाई थी। 

अबतक कहां मिले, कितने मरीज

  1. रांची  : 17 (14 पुरुष+3 महिला)
  2. बोकारो : 09 (6 पुरुष+3 महिला)
  3. हजारीबाग : 02 (पुरुष)
  4. गिरिडीह : 02 (पुरुष)
  5. सिमडेगा : 01 (पुरुष)
  6. धनबाद : 01 (पुरुष)

कोरोना वायरस : फैक्ट फाइल

  1.  3,751 लोगों की अभी तक सैंपल जांच हुई है। इनमें से 3,111 की रिपोर्ट निगेटिव आई है। 
  2. 95,801 लोग अभी होम क्वारंटाइन में हैं जबकि 9,493 लोग अस्पतालों में क्वारंटाइन हैं। 
  3. 3,245 लोग दूसरे देशों से लौटे हैं जिनमें से 1,393 लोगों का आइसोलेशन पीरियड खत्म हो गया है। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस