Move to Jagran APP

Hemant Soren Cabinet: हेमंत सोरेन की कैबिनेट में इन कद्दावर मंत्रियों का बढ़ा कद, इरफान अंसारी की भी बल्ले-बल्ले

Hemant Soren Cabinet हेमंत सोरेन की नई कैबिनेट में चंपई सोरेन की कैबिनेट से ज्यादा अंतर नहीं है लेकिन कुछ मंत्रियों का कद जरूर बढ़ाया गया है। बन्ना गुप्ता और हफीजुल हसन को इस बार अतिरिक्त जिम्मेदारी दी गई है। वहीं इरफान अंसारी को आलमगीर आलम के विभाग सौंपे गए हैं। सत्यानंद भोक्ता और बेबी देवी के विभागों में कोई परिवर्तन नहीं किया गया है।

By Ashish Jha Edited By: Mohit Tripathi Tue, 09 Jul 2024 11:07 AM (IST)
- कई मंत्रियों के विभाग में मामूली फेरबदल, सत्यानंद व बेबी देवी के विभाग में कोई बदलाव नहीं

राज्य ब्यूरो, रांची। झारखंड में मंत्रिमंडल के गठन के साथ सभी को विभागों का बंटवारा भी कर दिया गया है। कांग्रेस कोटे के मंत्रियों में बन्ना गुप्ता का, तो झामुमो के मंत्रियों में हफीजुल हसन का कद बढ़ा है।

बन्ना गुप्ता को स्वास्थ्य के अलावा, खाद्य आपूर्ति विभाग भी दिया गया है, जो कि पूर्व में डॉ. रामेश्वर उरांव के पास था। वहीं, झामुमो के मंत्री हफीजुल हसन को पहले से आवंटित विभागों के अतिरिक्त नगर विकास विभाग भी सौंप दिया गया है।

तो इसलिए बढ़ा दोनों मंत्रियों का कद

बन्ना और हफीजुल को नई जिम्मेदारी दिए जाने के पीछे उनकी उपलब्धियों को ही प्रमुख कारण माना जा रहा है।

एक और रोचक मामले में अर्जुन मुंडा की सरकार में शिक्षा मंत्री रहे बैद्यनाथ राम एक बार फिर शिक्षा मंत्री बने हैं। मंगलवार से मंत्री अपने-अपने विभागों का प्रभार भी ले लेंगे।

चंपई से ज्यादा अलग नहीं हेमंत की नई कैबिनेट

राज्य कैबिनेट में मंत्रियों के विभाग बंटने के बाद चम्पई सोरेन कैबिनेट में विभागों से कोई खास अंतर देखने को नहीं मिला है।

कांग्रेस कोटे के मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव से खाद्य आपूर्ति विभाग लेकर बन्ना गुप्ता को दे दिया गया है। बदले में उरांव को संसदीय कार्य विभाग की जिम्मेदारी दी गई है। वहीं, हफीजुल हसन को नगर विकास जैसे बड़े विभाग की जिम्मेदारी दी गई है।

इरफान को मिले आलम के विभाग

इरफान अंसारी को वही विभाग मिले हैं, जो आलमगीर आलम के पास थे। आलम के जेल जाने के बाद से ही अटकलें लगाई जा रही थीं कि ये विभाग इरफान के हिस्से में आएंगीं।

भोक्ता और बेबी देवी के विभागों में कोई नहीं परिवर्तन

सत्यानंद भोक्ता और बेबी देवी के विभागों में कोई परिवर्तन देखने को नहीं मिला है। मिथिलेश ठाकुर को बीच में उत्पाद विभाग मिला था, जिसे हटा लिया गया है।

यह भी पढ़ें: Champai Soren: 'हेमंत बाबू को 5 वर्ष के लिए...', मंत्री बनते ही चंपई सोरेन का बड़ा बयान; CM पद को लेकर कही ये बात

CM बनते ही बढ़ी हेमंत सोरेन की मुश्किलें, जमानत रद्द कराने SC पहुंची ED