जागरण संवाददाता, रांची : बेघरों को आवास उपलब्ध कराने की योजना में रांची नगर निगम तय लक्ष्य से आधे मकान का निर्माण भी नहीं करा पाया है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अब तक सिर्फ वर्टिकल-1 की योजना ही कारगर हो पाई है। इस योजना के तहत कुल 13,348 आवासों का निर्माण होना है, लेकिन रांची नगर निगम के आंकड़ों के अनुसार अब तक 6,404 आवासों का ही निर्माण पूरा हुआ है। अर्थात लक्ष्य के अनुरूप महज 47.97 फीसद आवासों का ही निर्माण हो पाया है। 6,744 आवासों का निर्माण आधा-अधूरा है। इसके अलावा वर्टिकल-3 के तहत जुडको के माध्यम से बनहोरा में 180 व बजरा में 477 आवासों का निर्माण कराने की योजना है। 22 अक्टूबर को मुख्यमंत्री ने बजरा व बनहोरा में प्रस्तावित प्रधानमंत्री आवास योजना का शिलान्यास भी किया है।

----------

वर्टिकल-1

चिह्नित स्लम की संख्या : 100

एचईसी क्षेत्र में स्लम की संख्या : 41

नगर निगम क्षेत्र में स्लम की संख्या : 05

सरकारी भूमि पर स्लम की संख्या : 31

सरकारी भूमि पर आंशिक रूप से बसे स्लम की संख्या : 20

कुष्ठ कॉलोनी में स्लम की संख्या : 03

स्लमों के लिए आवास की संख्या : 14,889

------

वर्टिकल-2

कुल लक्ष्य : 3,100

प्राप्त आवेदनों की संख्या : 317

वित्तपोषित आवासों की संख्या : 67

------

वर्टिकल-3

प्राप्त आवेदनों की कुल संख्या : 15,581

----------

वर्टिकल-4

स्वीकृत आवास : 15,762

लाभुकों द्वारा निर्माण किए जा रहे आवासों की संख्या : 13,348

पूर्ण आवासों की संख्या : 6,404

अधूरे आवासों की संख्या : 6,744

कुल आवंटित राशि : 14710.32 लाख

कुल स्वीकृत राशि : 57074 लाख आवासों के समय पर निर्माण नहीं होने से लाभुकों को परेशानी हो रही है। कई लोगों को रहने के लिए घर नहीं है। पांच साल होने के बाद भी कई योजनाएं अभी भी अधूरी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप