मांडू : मांडू थाना क्षेत्र अंतर्गत राष्ट्रीय राजमार्ग 33 से दो किलोमीटर दूर जंगलों के बीच स्थित जोजोबेड़ा ग्राम स्थित गंझुनिया गर्म कुंड में भी घूमने-फिरने वालों की आमद बढ़ गई है। गंझुनिया गर्मकुंड में ठंड के मौसम में रामगढ़ और हजारीबाग जिला के अलावा कई जिले के लोग नवंबर, दिसंबर, जनवरी और फरवरी में बड़ी संख्या में स्नान के लिए आते हैं। गर्म कुंड होने के कारण क्षेत्र के लिए यह प्रसिद्घ पिकनिक स्पॉट भी है।

स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार सरकारी और स्थानीय जन प्रतिनिधियों के उपेक्षा पूर्ण रवैया के कारण यह पर्यटन स्थल नहीं बन सका। मान्यता है कि गंझुनियां गर्मकुंड में स्नान करने से चर्मरोग दूर हो जाते हैं। परंपरा के अनुसार रोग से ग्रसित व्यक्ति यहां अंडा और गोलकी का दान कर मन्नत मांगते हैं और रोग ठीक होने पर गर्म कुंड के समीप स्थित देवी स्थल पर चढ़ावा चढ़ाते हैं। यहां ग्रामीणों ने चंदा कर कुंड की घेराबंदी कर आसपास सीढ़ी बनाई है।

इनसेट -

मकर संक्रांति को लगता है मेला

मांडू : गंझुनियां गर्म कुंड के नाम पर 15 माइल में मकर संक्राति के अवसर पर विशाल मेले का आयोजन किया जाता है। बड़ी संख्या में लोग मेले में पहुंचते है और कुंड में स्नान करते हैं। इस दौरान मेले में खरीदारी भी करते हैं।

इनसेट -

नहीं हो सका कुंड का सुंदरीकरण

मांडू : स्थानीय विधायक, पूर्व विधायक समेत कई जनप्रतिनिधि गर्म कुंड की विशेषता जान कुंड का निरीक्षण कर चुके हैं। निरीक्षण के बाद कई नेता एनएच 33 से कुंड तक सड़क व गेट बनाने का आश्वासन भी दे चुके हैं, लेकिन अभी तक इस दिशा में कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा सका है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर