मेदिनीनगर (पलामू), जासं। शहर थाना क्षेत्र अंतर्गत सूदना में स्थानीय लोगों ने चोर होने के शक में एक ऑटो चालक को पीट-पीट कर मार डाला। बाद में घटना से आक्रोशित लोगों ने शहर के बैरिया चौक से आगे हाउङ्क्षसग कॉलोनी के बाइपास रोड को जाम कर दिया। जामकर्ता मृतक के परिजनों को मुआवजा व नौकरी देने की मांग कर रहे थे।
करीब एक घंटे तक जाम लगने के कारण बाइपास रोड में वाहनों की लंबी कतार लग गई और मेदिनीनगर-पटना मुख्य पथ पर वाहनों को परिचालन ठप हो गया। जामस्थल पर डीएसपी सुरजीत कुमार व अन्य पुलिस पदाधिकारियों द्वारा काफी समझाने-बुझाने के बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ और लगभग एक घंटे बाद उन्होंने जाम हटाया।

शव के साथ्‍ा सड़क जाम करते लोग।
परिजनों ने पुलिस की पिटाई से मौत का लगाया आरोप
उधर, परिजन परिजनों के अनुसार पुलिस जीतेंद्र को बुधवार देर रात ही करीब दो बजे घर से अपने साथ थाना ले गई थी। इसके बाद गुरुवार की सुबह परिजन को जीतेंद्र के मौत होने की खबर मिली। परिजनों ने आरोप लगाया है कि पुलिस की पिटाई के कारण ही जितेंद्र साव की मौत हुई है। हालांकि पुलिस पदाधिकारियों ने इस आरोप को सिरे से खारिज किया है।
मेडिकल बोर्ड ने पुलिस की निगरानी में किया पोस्टमार्टम
परिजनों और स्थानीय लोगों द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच के लिए पुलिस ने परिजनों का बयान दर्ज किया। साथ ही शव के पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल बोर्ड का गठन किया गया है। डॉ. आनंद कुमार, डॉ. संजय कुमार आदि ने संयुक्त रूप से पुलिस की निगरानी में शव का अंत्यपरीक्षण किया। इसके बाद शव परिजन के हवाले कर दिया गया।

विलाप करते मृतक के परिजन।
क्या है मामला
सदर अस्पताल में इलाज के दौरान स्थानीय बैरिया निवासी की पिटाई से एक व्यक्ति की मौत हो गई। मृतक अर्जुन साव का 37 वर्षीय पुत्र जीतेंद्र साव है। मौत की सूचना मिलने के बाद परिजन सदर अस्पताल पहुंचे और हंगामा किया। बताया जाता है कि सूदना में बुधवार रात एक पत्रकार के घर में तीन-चार लोग चोरी करने के लिए घुसे थे। शोर मचाने के बाद चोर भागने लगे।
इसी बीच उधर से गुजर रहा ऑटो चालक जीतेंद्र साव स्थानीय लोगों की गिरफ्त में आ गया, जबकि अन्य लोग भाग खड़े हुए। स्थानीय लोगों ने चोर समझकर जीतेंद्र की जमकर पिटाई कर दी। पिटाई से गंभीर रूप से घायल जीतेंद्र की गुरुवार सुबह मौत हो गई।
पूरे मामले की निष्पक्ष जांच होगी। जनता व पुलिस की पिटाई को लेकर जो भी आरोप लगाए गए हैं, उनकी गहन जांच की जाएगी। मामले में जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। -सुरजीत कुमार, डीएसपी, पलामू।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस