जागरण संवाददाता, जामताड़ा

नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी की 125वीं जयंती पर युवा सैनिक संघ नाला के सौजन्य से नाला कालेज के प्रांगण में स्थित नेताजी सुभाष बाबू के प्रतिमा में माल्यार्पण कर तिरंगा फहराया गया। साथ ही राणा कूड़ाघाट पश्चिम बंगाल झारखंड सीमा पर स्थित काली मंदिर परिसर में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का विधिवत उद्घाटन कार्यक्रम में मुख्य अतिथि नगर पंचायत जामताड़ा के पूर्व अध्यक्ष बीरेंद्र मंडल ने किया। मौके पर उन्होंने कहा कि भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की अहम भूमिका रही। भारत की आजादी में नेताजी द्वारा गठित आजाद हिद फौज का योगदान यह देश कभी भूल नहीं सकता। नेता जी के नेतृत्व में गठित अंतरिम सरकार के प्रधानमंत्री नेताजी रहे, इस तरह से देखा जाए तो भारत के पहले प्रधानमंत्री नेताजी सुभाष बाबू ही हैं।

मंडल ने कहा नेताजी के याद में रक्तदान शिविर आयोजित कर युवा सैनिक संघ नाला ने सराहनीय प्रयास किया है। रक्तदान महादान है। रक्त दाताओं एवं आयोजन समिति की सराहना करते हुए उन्होंने उपस्थित युवाओं से इस तरह के सामाजिक कार्यो को गति देने का आह्वान किया। उन्होंने युवा सैनिक संघ नाला के सदस्यों को हर प्रकार का सहयोग देने का भरोसा दिया। मौके पर भारी संख्या में रक्त दान दाता के साथ-साथ युवा सैनिक संघ नाला के अध्यक्ष महेश्वर घोष, सचिव कमल, समाजसेवी तापस भट्टाचार्य, रंजीत प्रसाद यादव, सुभाष यादव, प्रबीर धर, सीटू सिंह, माधव घोष, कुंदन सिंह, दीपक मंडल, नाला थाना के पुलिस कर्मी एवं पश्चिम बंगाल के दम्हानी थाना के पुलिस के अधिकारी गण के साथ भारी संख्या में स्थानीय समाजसेवी उपस्थित थे।

Edited By: Jagran