जासं, जामताड़ा। कंटेनर में भरकर ले जा रहे 100 से ज्यादा मवेशियों को मिहिजाम पुलिस ने पकड़ा। इनमें दो गोवंश मरे पाए गए हैं। ड्राइवर गाड़ी छोड़कर फरार हो गया। जामताड़ा बजरंग दल के कार्यकर्ताओं की सूचना पर मिहिजाम पुलिस ने बुधवार की सुबह यह करवाई की। पुलिस सूत्रों के अनुसार, बिहार से देवघर के बगदाहा के रास्ते इन सभी मवेशियों को बंगाल ले जाया जा रहा था। पुलिस कंटेनर और मवेशियों को जब्त कर आरोपितों की तलाश कर रही है। जब्त गोवंश में ज्यादातर बैल हैं। कंटेनर में दम घुटने से इनमें से दो की मौत हो चुकी है। जबकि आधा दर्जन से ज्यादा गोवंश बेसुधी अवस्था में पाए गए हैं। पुलिस टीम पशु चिकित्सक को बुलाकर इनकी जांच करवाई जा रही है।

झारखंड में गौ तस्‍करी की घटनाएं कम होने के बजाय लगातार बढ़ती ही जा रही हैं। बीते दिनों भी ऐसी कई घटनाएं सामने आई हैं। इससे पहले पिछले साल 28 दिसंबर को 185 मवेशियों को दुमका के सरैयाहाट थाना क्षेत्र से होकर तस्करी के लिए ले जाया जा रहा था, जिन्‍हें सरैयाघाट थाने की पुलिस ने जब्‍त कर लिया। इस घटना में आरोपितों से पूछताछ की गई, तो उन्‍होंने बताया कि इन्‍हें पाकुड़ के रास्ते मुर्शिदाबाद के धुलियान होकर बांग्लादेश भेजना था। 

यहां पढ़ें पूरी खबर- बांग्‍लादेश भेजने के लिए 185 गोवंशियों को ले जा रहे थे तस्‍कर, भाजपा सांसद की रास्‍ते पर नजर पड़ते ही खुली पोल

इसके अलावा, दस दिसंबर सुबह 5:30 बजे की एक घटना में धनबाद की ओर से तेज रफ्तार से आते गोवंशियों से लदे कंटेनर ने मैथन टोल प्लाजा के बैरिकेड को तोड़ दिया था। इसके बाद आसनसोल (Asansol) की तरफ भाग गए। कंटेनर चालक ने टोल प्लाजा पर तैनात दो कर्मियों को भी कुचलने की कोशिश की। यह घटना मैथन टोल प्लाजा में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। इससे पता है कि राज्‍य में पशु तस्‍कर कितने बेखौफ हो गए हैं और इनमें पुलिस व प्रशासन का डर नहीं बाकी रहा है।

यहां पढ़ें पूरी खबर- गौ तस्‍कर हुए बेखौफ: टोल प्‍लाजा पर बैरियर तोड़ भागा मवेशियों से लदा कंटेनर, दो कर्मियों को कुचलने की भी कोशिश

Edited By: Arijita Sen

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट