जमशेदपुर : जमशेदपुर सहित पूरे झारखंड का मौसम अभी खराब रहेगा। अगले एक सप्ताह के दौरान गरज के साथ बारिश, कोहरा व धुंध देखने को मिल सकता है। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार को भी शहर में जोरदार बारिश होने की संभावना बनी हुई है। वहीं, बुधवार को आसमान में बादल छाए रहेंगे। साथ ही गरज के साथ बारिश व धूल भरी आंधी की भी संभावना है। 21 अक्टूबर को भी आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे।

जबकि 22 अक्टूबर को कोहरा छाया रहेगा। वहीं, 23 व 24 अक्टूबर को धुंध बने रहेगा। इधर, सोमवार को शहर में दिनभर हल्की बारिश होती रही। बीते 24 घंटे में 32 एमएम बारिश दर्ज की गई है। वहीं, तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। शहर का अधिकतम तापमान 27.8 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 23.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज की गई।

मंगलवार को उत्तरी और मध्य जिलों में भारी बारिश के साथ वज्रपात की संभावना है। मौसम विज्ञानी अभिषेक आनंद ने बताया कि कम दबाव का क्षेत्र तेलंगाना के पास बना हुआ है। इसके कारण दक्षिण-पूर्वी हवाओं का असर राज्य में दिख रहा है। इसके कारण राज्य में अगले दो दिनों तक जमशेदपुर, चाईबासा, सरायकेला, घाटशिला, रांची, बोकारो, गुमला, रामगढ़, हजारीबाग, खूंटी, कोडरमा, गढ़वा, चतरा, देवघर और धनबाद में भारी बारिश की संभावना है। इसके साथ ही तेज हवा भी चल सकती है।

राज्य में बारिश में कमी 21 अक्टूबर से देखने को मिलेगा। वहीं रविवार को राजधानी में जमकर बारिश हुई। सुबह चार घंटे के आसपास में करीब 26.6 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। तेज बारिश के साथ करीब 18 किमी प्रतिघंटा के रफ्तार से हवा भी चली। पिछले 24 घंटे के दौरान राज्य में सबसे ज्यादा बारिश जमशेदपुर में दर्ज की गई। जबकि सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान साहिबगंज में 37.2 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। राज्य में सबसे कम न्यूनतम तापमान राजधानी रांची का 21.6 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया।

मलेरिया जांच में तेजी लाने का निर्देश

बारिश के मौसम को देखते हुए राज्य के जिला मलेरिया जांच अभियान में पिछड़ा हुआ है। इसे देखते हुए पूर्वी सिंहभूम के सिविल सर्जन डॉ. एके लाल ने जांच में तेजी लाने का निर्देश दिया है। ताकि अधिक से अधिक लोगों की जांच हो सकें। पोटका, पटमदा व बहरागोड़ा प्रखंड में मलेरिया की जांच काफी धीमी गई से हो रही है। इसे सिविल सर्जन ने गंभीरता से लेते हुए जांच बढ़ाने का निर्देश दिया है।

Edited By: Jitendra Singh