जमशेदपुर (जागरण संवाददाता)। पूर्वी सिंहभूम जिले का दूसरा संक्रमित युवक भी कोरोना से मुक्त हो गया। उसे शुक्रवार को राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने गुलदस्ता देकर टीएमएच (टाटा मुख्य अस्पताल) से विदा किया।

टीएमएच से निकलने के बाद बातचीत में युवक ने पत्रकारों से कहा कि वह कोलकाता में सीए की तैयारी कर रहा था। लाॅकडाउन के दौरान वह चाकुलिया स्थित अपने घर आया था। उसे जब पता चला कि वह कोरोना पाॅजिटिव है, तो काफी नर्वस हो गया था। जिला प्रशासन ने उसे टीएमएच के कोविड वार्ड में भर्ती कराया गया। यहां डाॅक्टरों ने दिलासा दिया कि घबराने की जरूरत नहीं है, यह बीमारी जानलेवा नहीं है, तो उसे काफी शांति मिली। आखिरकार मैं ठीक हो गया, इसके लिए जिला प्रशासन व अस्पताल की पूरी टीम को बधाई। अब मैं घर जाकर भी शारीरिक दूरी समेत कोरोना के सभी नियमों का पालन करूंगा।

युवक की विदाई के दौरान अस्पताल की नर्सों व स्वास्थ्य कर्मियों ने तालियां बजाकर खुशी जाहिर की। इस मौके पर जिला के सिविल सर्जन डाॅ. महेश्वर प्रसाद व टीएमएच के महाप्रबंधक डॉ. राजन चौधरी भी उपस्थित थे। ज्ञात हो कि इससे पहले इस युवक के साथ कोलकाता से आई युवती टीएमएच से 27 मई को टीएमएच से विदा हुई थी। युवक-युवती आठ मई को कोलकाता से आए थे।

स्थानीय लोगों की सूचना पर जिले के स्वास्थ्य विभाग की टीम ने 10 मई को कोरोना जांच के लिए स्वाब का नमूना लिया था। इनकी जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव आने के बाद 11 मई की देर रात को ही जिला प्रशासन ने इन्हें टीएमएच में भर्ती कराया और इनके घर के आसपास को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया था।

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस