जमशेदपुर, जासं। पूर्वी सिंहभूम का जिलास्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह हर बार की तरह इस बार भी बिष्टुपुर स्थित गोपाल (पूर्व नाम रीगल) मैदान में होगा। गणतंत्र दिवस समारोह पर पुलिस की पांच टुकड़ी 20 जनवरी से ही परेड का पूर्वाभ्यास कर रही थी। इसी कड़ी में सोमवार को फुल ड्रेस रिहर्सल हुआ, जिसका निरीक्षण पूर्वी सिंहभूम जिले के वरीय पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) डा. एम तमिल वणन ने किया। इस दौरान एसएसपी ने कहा कि गणतंत्र दिवस समारोह में इस वर्ष कोई झांकी नहीं निकलेगी। पुरस्कार वितरण भी नहीं किया जाएगा। परेड में जैप-6, सहायक पुलिस, जिला गृह रक्षक बल की एक-एक टुकड़ी और जिला सशस्त्र बल की (महिला व पुरूष) की एक-एक टुकड़ी ने हिस्सा लिया। गणतंत्र दिवस की तैयारियों के तहत परेड का पूर्वाभ्यास के मौके पर वरीय पुलिस अधीक्षक ने पुलिस पदाधिकारियों को परेड को लेकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिया गया। इसके साथ ही जिलास्तरीय मुख्य समारोह स्थल की अन्य तैयारियों का भी उन्होंने जायजा लिया।

कोविड की वजह से सीमित लोग रहेंगे उपस्थित

इस दौरान पत्रकारों को संबोधित करते हुए वरीय पुलिस अधीक्षक डा. एम तमिल वणन ने कहा कि कोविड महामारी को देखते हुए इस वर्ष सीमित संख्या में लोग मुख्य समारोह में शामिल होंगे। 26 जनवरी को सुबह 9.05 बजे झंडोतोलन किया जाएगा। जिलास्तरीय मुख्य समारोह स्थल पर सख्ती से कोविड प्रोटोकॉल के अनुपालन का निर्देश दिया गया है। गणतंत्र दिवस को लेकर सुरक्षा व्यवस्था एवं यातायात व्यवस्था को लेकर भी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। इस दौरान उपविकास आयुक्त (डीडीसी) परमेश्वर भगत, अपर जिला दंडाधिकारी (एडीएम ला एंड आर्डर) नंदकिशोर लाल, निदेशक डीआरडीए सौरभ सिन्हा, जिला परिवहन पदाधिकारी (डीटीओ) दिनेश रंजन, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रोहित कुमार समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

बच्चों की प्रभातफेरी पर भी प्रतिबंध

जिले के उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी सूरज कुमार ने पहले ही कह दिया था कि इस बार कोरोना को देखते हुए बच्चों की प्रभातफेरी नहीं निकाली जाएगी। छोटे स्कूली बच्चों को भी सार्वजनिक समारोह में शामिल नहीं किया जाएगा। स्वतंत्रता सेनानियों व उनके आश्रितों को गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर जिले के अधिकारी घर जाकर सम्मानित करेंगे। गोपाल मैदान में हर जगह सैनिटाइजर की व्यवस्था की जाएगी। परेड में शामिल जवानों को कोरोना जांच के बाद ही शामिल होने की अनुमति दी जाएगी।

Edited By: Jitendra Singh