जमशेदपुर, जासं। शहर के आजाद नगर में गुरुवार को एक बार फिर मॉबलिंचिंग की घटना घटी। यहां एक बच्चा चोर को लोगों ने चेपा पुल के पास पकड़ा। इसके बाद वहां जमा हुई उन्मादी भीड़ ने उसे जमकर पीटा। इसके बाद पुलिस को सौंप दिया। इसके बाद भीड़ ने मामले में कार्रवाई की मांग करते हुए थाने को घेर लिया। मौके की नजाकत को देखते हुए डीएसपी पटमदा वज्र वाहन, क्यूआरटी समेत बड़ी संख्या में पुलिस फोर्स लेकर मौके पर पहुंच गए। तभी पुलिस पर पथराव हुआ और इसके बाद पुलिस ने भीड़ पर लाठी चार्ज कर दिया। लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा गया।

घटना की जानकारी मिलते ही सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट मौके पर पहुंचे। आजादनगर थाना शांति समिति के लोगों ने भी पहुंच कर लोगों से घर जाने की अपील की। इसके बाद मामला शांत हुआ। घटना गुरुवार की रात साढ़े आठ बजे की है। जानकारी के अनुसार आजाद नगर की गरीब कॉलोनी में रोड नंबर 27 के रहने वाले 10 साल के ताहा को धतकीडीह की हरिजन बस्ती का आशीष मुखी बहला कर अपने साथ ले जा रहा था। इसी दौरान ताहा के मामा जीशान की नजर पड़ गई।

बताते हैं कि जीशान ने आशीष मुखी को पकड़ लिया। तभी वहां भीड़ जमा हो गई और आशीष को जमकर पीटा। बाद में उसे आजाद नगर थाने को सौंप दिया। इसी बीच बच्चा चोरी की अफवाह आग की तरह पूरे इलाके में फैल गई। आजाद नगर थाने के पास भीड़ जमा हो गई। भीड़ बच्चा चोर पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग कर रही थी। हालात बेकाबू देख कर मानगो थाना प्रभारी अरुण महथा मौके पर पहुंचे। हालात की गंभीरता को देखते हुए सिटी एसपी सुभाष चंद्र जाट और डीएसपी पटमदा विजय महतो वज्र वाहन, क्यूआरटी (क्विक रिएक्शन टीम) और पुलिस बल लेकर मौके पर पहुंच गए।

इधर, भीड़ थाने में घुसने की कोशिश कर रही थी। आजाद नगर थाना शांति समिति के सदस्यों ने लोगों को समझाया तो मामला शांत हो गया। लेकिन, तभी भीड़ की तरफ से पुलिस पर पथराव कर दिया गया। पथराव होते ही पुलिस ने भी मोर्चा संभाल लिया। पुलिस ने भीड़ को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। बाद में सिटी एसपी आजाद नगर थाना शांति समिति के लोगों को लेकर आगे बढ़े और लोगों को समझा-बुझा कर मामला शांत कराया। बच्चा चोरी के आरोपित धतकीडीह के आशीष मुखी के खिलाफ पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर ली है।

Posted By: Alok Shahi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप