जमशेदपुर, जासं। Tata Steel Chimney Collapses टाटा स्टील की 27 साल पुरानी चिमनी को अत्याधुनिक तकनीक की मदद से मात्र 11 सेकंड में रविवार सुबह ध्वस्त कर दिया गया। यह कार्य सुबह 11 बजे संपन्न हुआ। टाटा स्टील की ओर से रविवार को यूनाइटेड क्लब में आहूत प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी गई।

जीरो डिग्री पर चिमनी गिराने का बना यह विश्व रिकॉर्ड

अधिकारियों ने बताया कि चिमनी को जीरो डिग्री, अर्थात पूरी तरह लंबवत गिराया गया, जिससे किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं हुई। अधिकारियों ने दावा किया कि जीरो डिग्री पर चिमनी गिराने का यह विश्व रिकॉर्ड है। अभी तक 4 डिग्री तक गिराने का ही रिकॉर्ड था। उन्होंने भी पहले इसी की तैयारी की थी, लेकिन बाद में इस रणनीति को बदला गया और लोहे की जाली से घेरकर और पानी की बौछार कर फिर चिमनी को गिराया गया। इससे न तो धूल उड़ी और ना ही किसी अन्य ढांचे को कोई नुकसान पहुंचा।

48 किलो विस्फोटक का किया गया इस्तेमाल, दो करोड़ रुपये हुए खर्च

अधिकारियों ने बताया कि चिमनी को गिराने के लिए 48 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल किया और लगभग दो करोड़ रुपए की लागत आई है। संवाददाता सम्मेलन को टाटा स्टील के वाइस प्रेसिडेंट चाणक्य चौधरी, वीपी अवनीश गुप्ता सहित अन्य अधिकारियों ने संबोधित किया।

Edited By: Sanjay Kumar

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट