चाईबासा, जासं। दिल्ली में इंजीनियर युवती से दुष्कर्म के मामले में फंसे झारखंड कैडर के आइएफएस अंशुमन राजहंस की पहली पोस्टिंग पश्चिम सिंहभूम जिला मुख्यालय चाईबासा वन प्रमंडल में हुई थी। 21 जून को उन्होंने योगदान दिया और उसी दिन निजी कारणों का हवाला देते हुए आकस्मिक अवकाश पर चले गए। दो दिन बाद उन्होंने छुट्टी और बढ़ाने के लिए आवेदन दिया।

शादी का झांसा देकर युवती से संबंध बनाने का आरोप

वन विभाग में चर्चा है कि दुष्कर्म के मामले में फंसने के कारण वो भागे हुए थे। इसी कारण वापस नहीं आए। अंशुमन 2020 बैच के आइएफएस अधिकारी हैं। 15 मई को दिल्ली के राजेंद्र नगर थाना में उनके ख़िलाफ़ सिविल सेवा की तैयारी कर रही इंजीनियर युवती ने शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने की प्राथमिकी दर्ज कराई थी। जिसके बाद उन्हें कोलकाता के सियालदह में बुधवार को एक होटल से पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Edited By: Madhukar Kumar