जमशेदपुर : अक्सर लोगों की खर्राटों के कारण नींद खराब हो जाती है। कभी-कभी तो खर्राटों के कारण शर्मिंदा भी होना पड़ता है। कुछ लोग समझते हैं कि खर्राटे आना सामान्य है। इसलिए वे इस पर ध्यान नहीं देते। जबकि ज्यादातर लोगों में शारीरिक समस्याओं या गलत आदतों के कारण खर्राटे आते हैं।

आयुर्वेदाचार्य सीमा पांडेय बताती हैं, खर्राटे आना एक बड़ी समस्या की तरह देखा जाता है। अगर आप भी खर्राटे की समस्या से जूझ रहे हैं तो बस कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर आप अपना खर्राटे की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

खर्राटे से बचने के लिए घरेलू उपाय

मन रखें शांत - अगर आपको रात को सोते समय खर्राटे लेने की आदत है, तो इस परेशानी से बचने के लिए रात को सोते समय मन को शांत व मस्तिष्क को बाहरी विचारों से मुक्त रखकर सोना चाहिए।

जैतून का तेल - खर्राटे की समस्या को दूर करने के लिए जैतून का तेल कारगर है। क्योंकि जैतून का तेल सूजन को दूर करता है, जिससे गले के अंदर हवा के आने-जाने में किसी तरह की परेशानी नहीं होती। ऐसे में रात को सोने से पहले जैतून की तेल की एक या दो घूंट लें या फिर आप उसमें शहद मिलाकर भी उसका सेवन कर सकते हैं।

देशी घी - देशी घी काफी औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इसके सेवन से नाक के जमाव को कम करने में मदद मिलता है। इसके इस्तेमाल से खर्राटे की समस्या दूर हो सकती है। इसके लिए आप घी को हल्का गर्म करें और एक-एक बूंद अपनी नाक के दोनों छिद्रों में डालें।

पानी पीएं - अगर किसी के शरीर में पानी की कमी है तो इसकी वजह से भी खर्राटे आते हैं। जब शरीर में पानी की कमी होती है तो नाक

के रास्ते की नमी सूख जाती है। ऐसे में साइनस हवा की गति को श्वास तंत्र में पहुंचने के बीच में सहयोग नहीं कर पाता और सांस लेना कठिन हो जाता है।

वजन कम करें- अधिकतम मोटे लोग ही खर्राटे की समस्या के शिकार होते हैं। यदि आप भी खर्राटे से छुटकारा पाना चाहते हैं तो अपना वजन कम करने का उपाय करें।

Edited By: Jitendra Singh