टाटीझरिया(हजारीबाग), जासं। झारखंड एक बार फिर शर्मसार हुआ है। हजारीबाग के टाटीझरिया में एक महिला को अर्द्धनग्‍न कर बांधकर पीटा गया है। हालांकि, पुलिस ने महिला के बेटे की गुहार पर त्‍वरित कार्रवाई करते हुए दो आरोपियों को मौके से गिरफ्तार कर लिया। टाटीझरिया थाना के मुरुमातु गांव में एक अधेड़ उम्र की महिला मोसमात कुंजिया पति स्व बासुदेव गंझू की उसके भैंसुर, देवर, भैंसुर बेटा और गोतनी के द्वारा अर्द्धनग्‍न कर पिटाई की गई। पिटाई करने से पहले महिला के दोनों हाथों को रस्सी से पीछे बांध दिया गया। मां की पिटाई देख उसका एकलौता बेटा विकास गंझू उम्र 6 वर्ष भागकर थाना पहुंचा और पुलिस को मामले की जानकारी दी।

पुलिस ने इस मामले में त्‍वरित कार्रवाई करते हुए बिनोद गंझू और देवा गंझू को गिरफ्तार कर लिया। थाना प्रभारी देवेंद्र प्रसाद सिंह ने बताया कि मुरुमातु गांव में महिला को बांधकर पीटने वाले दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है। महिला की गोतनी राधा देवी, रीना देवी, मोसमात लक्षवा व अन्य के विरुद्ध थाना कांड संख्या 20/19 दिनांक 14-7-2019 धारा 147, 148, 149, 448, 307, 354 आइपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है।

मोसमात कुंजिया ने थाना में आवेदन दिया है कि उसकी सौतेली बेटी सुबासो कुमारी जिसका ननिहाल जमनीजारा गोमिया है। उसकी शादी घटना के दिन रविवार को बनासो मंदिर में होने वाली है। मोसमात कुंजिया का कहना है वह अपनी सौतेली बेटी को पाल पोसकर बड़ा की पर उसकी शादी में इसको नहीं पूछा गया। वह इस बात को अपने परिवार में रखी तो इसके भैंसुर, देवर, भैंसुर बेटा और गोतनी के द्वारा अर्द्धनग्‍न कर मारपीट किया गया है। विधवा का मायके तेनुघाट के रंगामाटी चीनीयागड्ढा है। इसके पति की मौत हो चुकी है।

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस