पथरगामा : प्रखंड के लखन पहाड़ी भवन और स्वास्थ्य उप केंद्र थोड़ी सी वर्षा होने पर लोग जाने से कतराते हैं। मालूम हो कि पंचायत भवन और उप स्वास्थ्य केंद्र जाने में कच्ची सड़क में मिट्टी होने की वजह से थोड़ी सी वर्षा होने पर वहां जाना दूभर हो जाता है। लखन पहाड़ी पंचायत के ग्रामीण जावेद अख्तर ने बताया कि लखनपहाड़ी पंचायत के मुखिया के पास काम कराने के लिए पंचायत भवन जाना था उसी दौरान वर्षा हो जाने की वजह से बारकोप लखनपहाड़ी मुख्य मार्ग पर पंचायत भवन जाने के लिए जैसे ही गाड़ी खड़ा कर जाना चाहा कच्ची सड़क की मिट्टी जूते में इस तरह फस गई जिसके चलते एक डेग चलना भी मुश्किल हो गया। बाद में जूता खोलकर अपने हाथ में लेकर किसी प्रकार से पंचायत भवन पहुंचा ।

इस संबंध में पूछे जाने पर लखनपहाडी पंचायत के मुखिया प्रदीप कुमार सिंह ने बताया कि लखनपहाडी बारकोप मुख्य पथ से पंचायत भवन की दूरी 900 फीट की है। बताया कि मुखिया के द्वारा इतनी दूरी का पीसीसी मार्ग कराना दूभर है। बताया कि कई बार सांसद एवं विधायक का आगमन पंचायत भवन के आसपास हुआ लेकिन दोनों जन प्रतिनिधि का ध्यान पंचायत भवन तक पीसीसी सड़क कराने बनवाने का काम नहीं करवाया। बताया कि वर्षा काल में अगर किसी प्रकार का सरकारी कार्य या सेमिनार का आयोजन होता है तू ऐसे में पंचायत भवन तक एक भी गाड़ी नहीं जाएगी बताया कि पंचायत भवन तक करार मिट्टी होने की वजह से लोगों को पैदल चलना दुर्लभ हो जाता है। लखनपहाड़ी पंचायत के मुखिया सिंह ने बताया कि पंचायत भवन के पहले स्वास्थ्य उपकेंद्र लखनपहाडी है थोड़ी सी वर्षा होने पर उस स्वास्थ्य केंद्र में एक भी बीमार रोगी अपना ईलाज कराने के लिए वहा नही जा सकता है। उन्होंने बताया कि कई बार विधायक गोड्डा को पंचायत भवन तक सड़क बनाने के लिए कहां गया था लेकिन उनके द्वारा भी इस दिशा में कोई पहल नहीं की गई।

Edited By: Jagran