धनबाद, जेएनएन। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों के खिलाफ सोशल मीडिया फेसबुक पर आपत्तिजनक टिप्पणी के बाद आक्रोशित लोग सोमवार की रात भूली में सड़कों पर उतर गए। भूली ओपी को घेर सैनिकों की शहादत का मजाक उड़ानेवाले शाहनवाज की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की। धनबाद पुलिस ने सूझ-बूझ का परिचय देते हुए मुबंई पुलिस से संपर्क साध शाहनवाज की गिरफ्तारी सुनिश्चित की। इसके बाद माहाैल में नरमी आई। इस मामले को लेकर जिस तरह तनाव फैल रहा था अगर शाहनवाज की गिरफ्तारी नहीं हुई होती तो धनबाद शहर नफरत की आग में जल सकता था। 

क्या है मामलाः वासेपुर से सटे आजाद नगर निवासी शाहनवाज अली नामक ने सोमवार को फेसबुक पर शहीद जवानों के प्रति बेहद आपत्तिजनक टिप्पणी कर दी। लोगों को जैसे ही इसका पता चला वे आक्रोशित हो उठे। हजारों की संख्या में लोग भूली ओपी पहुंच गए और आरोपित युवक की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। हिन्दू समाज पार्टी के जिलाध्यक्ष दीपक झा ने भूली थाना में लिखित शिकायत की। शिकायत के बाद ओपी प्रभारी प्रवीण कुमार ने कार्रवाई शुरू करते हुए आरोपित की तलाश शुरू की। जब घंटों बीत गया और युवक पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा तो लोग और आक्रोशित हो गए। लोगो ने थाना परिसर में नारेबाजी शुरू कर दी। भीड़ ने रोड जाम तथा टायर जलाने की भी कोशिश की। मामला बिगड़ता देख एसडीएम राज महेश्वरम और बैंकमोड़ इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह मौके पर पंहुचे और कार्रवाई का भरोसा देते हुए लोगो को शांत रहने की अपील की।

मुंबई में हुई गिरफ्तारीः सोशल मीडिया के माध्यम से सैनिकों की शहादत का मजाक उड़ानेवाले शाहनवाज अली को देर रात मुबंई से गिरफ्तार कर लिया गया। भूली पुलिस उसे लाने के लिए मुबंई जाने की तैयारी में हैं। भूली ओपी में आम लोगों के बढ़ते आक्रोश को देखकर पुलिस ने शाहनवाज के परिजनों को उठाया था। परिजनों ने पुलिस से शाहनबाज की फोन पर बात कराई। इसके बाद भूली पुलिस ने मुबंई पुलिस से संपर्क साधा। इसके बाद मोबाइल लोकेशन के आधार पर शाहनवाज को पकड़ा गया। उसकी गिरफ्तारी के बाद मुबंई पुलिस ने धनबाद पुलिस को सूचना दी है। भूली पुलिस के अनुसार शाहनवाज के पांच भाई मुबंई में रहते हैं। सोशल मीडिया में उसकी टिप्पणी वायरल होने के बाद ही वह अपने भाइयों के पास मुबंई भाग गया था। भूली पुलिस ने शाहनवाज के खिलाफ देशद्रोह व आइटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज की है। 

विधायक और एसडीएम ने दिया कार्रवाई का भरोसा : मामले की सूचना मिलते ही धनबाद के विधायक राज सिन्हा और एसडीएम भी मौके पर पंहुचे। वहां विधायक ने इंस्पेक्टर से मामले की जानकारी लेते हुए आरोपित युवक पर कार्रवाई करते हुए राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज करने को कहा। विधायक ने कहा कि आरोपित को माफ नहीं किया जा सकता। जबतक युवक की गिरफ्तारी नहीं होती है वे चैन से नही बैठेंगे। 

बवाल के बाद हटाई टिप्पणीः फेसबुक पर मैसेज वायरल होने की सूचना जब युवक को मिली तो उसने सारे मैसेज को हटा दिया। युवक ने अपने दोस्त के साथ चैट करते हुए शहीद सैनिकों के लिए आपत्तिजनक शब्दों का प्रयोग किया था। जबकि उसका दोस्त उसे लगातार ऐसा कहने से मना कर रहा था।

भूली में विधायक राज सिन्हा के खिलाफ नारा लगा तो लाठीचार्जः सोशल मीडिया केमाध्यम से भारतीय सेना का मजाक उड़ानेवाले शख्स की गिरफ्तारी को लेकर उमड़ी भीड़ ने  विधायक राज सिन्हा के खिलाफ भी नारे लगाए। इस दौरान पुलिस ने भीड़ को तितर बितर करने के लिए लाठीचार्ज भी किया। पथराव भी हुए। बताते हैं कि जब एसडीओ ने आरोपित शाहनवाज के मुबंई में गिरफ्तार हो जाने की बात आम पब्लिक को बताया तो लोगों को शाहनवाज की गिरफ्तारी का विश्वास नहीं हुआ। सभी विधायक के मुंह से यह बात जानना चाह रहे थे पर विधायक थोड़ी देर के लिए भीड़ से बाहर हो गए थे। जिससे आक्रोशित लोगों ने विधायक राज सिन्हा मुर्दाबाद, भारत माता की जय का नारा लगाने लगे। विवाद का रूख बदलते देख पुलिस भी सख्ती में आ गई और भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस को लाठी भांजना पड़ा। इस बीच पथराव भी हुए। 

Posted By: mritunjay

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप