धनबाद/ जामतड़ा, जेएनएन। धनबाद और जामताड़ा जिले की सीमा स्थित करमादाहा में रविवार तड़के दुखिया महादेव मंदिर को अपवित्र करने की कोशिश की गई। मंदिर के पास शरारती तत्व प्रतिबंधित मांस फेंक कर भाग गए। सुबह इसकी जानकारी मिलने के बाद स्थानीय लोग भड़क गए। विरोध में सड़क जाम कर दिया।

करमदाहा में बराकर नदी घाट के नजदीक सुनसान इलाके में मंदिर है। इसका फायदा उठाते हुए शरारती तत्व धार्मिक भावना को भड़काने के लिए प्रतिबंधित मांस फेंक कर भाग निकले। इसके विरोध में रविवार 8 बजे से लोगों ने गोविंदपुर-साहिबंगज सड़क को जाम कर दिया है। सड़क जाम कर स्थानीय लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। घटना की जानकारी मिलने के बाद सड़क जाम की सूचना मिलने एसडीपीओ ए उपाध्याय, एसडीओ सुधीर  कुमार और बीडीओ महेश्वरी यादव  पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। स्थानीय लोगों को समझाकर सड़क जाम हटाने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। ग्रामीण दोषियों को चिह्नित कर पहले गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं। दूसरी तरफ सड़क जाम के कारण गोविंदपुर-साहिबंगज सड़क पर वाहनों का परिचालन थम गया है। हाइवे पर गमनागन शुरू हुआ। एसडीपीओ अरविंद उपाध्याय ने दोषी को शीघ्र गिरफ्तार करने का भरोसा लोगों को दिया। करीब चार घंटे बाद सड़क जाम समाप्त हुआ। एसडीपीओ ने दोषियों को चिह्नित कर शीघ्र गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस