धनबाद, जेएनएन। महात्मा गांधी ने कहा था, स्वच्छता को अपने आचरण में इस तरह अपना लो कि वह आपकी आदत बन जाए...। बापू के ऐसे संदेश अब आपको रेलवे के दफ्तरों में दिखेंगे। इतना ही नहीं रेलगाडिय़ों में अब आप गांधी दर्शन भी कर सकेंगे। राष्ट्रपिता की 150वीं को यादगार बनाने के लिए रेलवे ने कई तैयारियां शुरू की है। इसके तहत देशभर की ऐसी टे्रनें जिनमें पर्यटन से जुड़े पोस्टर लगे हैं, उन्हें हटाकर महात्मा गांधी की थीम आधारित पोस्टर लगाए जाएंगे। उन पोस्टरों में आप गांधी के स्वतंत्रता आंदोलन से लेकर स्वच्छता जागरुकता को लेकर उनके क्रियाकलापों का अवलोकन कर सकेंगे। अभी रेलवे स्वच्छता के लोगो के रूप में बापू के चश्मे का उपयोग कर रही है। इसे बदल कर अब चरखे का लोगो चलन में आएगा जिसमें 150वीं जयंती भी लिखा होगा। टे्रनों के प्रवेश द्वार पर ऐसे लोगो लगाए जाएंगे।

अधिकारी फिर थामेंगे अपने हाथों में झाड़ूः इस वर्ष गांधी जयंती को रेलवे कम्युनिटी डे के रूप में मनाएगी। इस दौरान रेल अफसर एक बार फिर अपने हाथों में झाड़ू थामेंगे। विभिन्न संगठनों के साथ मिलकर श्रमदान करेंगे।

रेलवे की खाली जमीन पर विकसित होगी नर्सरीः रेलवे की खाली पर नर्सरी विकसित की जाएगी। खास तौर पर रेलवे ट्रैक के आसपास की जमीन को नर्सरी का रूप दिया जाएगा। इसके लिए इंजीनियङ्क्षरग विभाग को निर्देश दिया गया है।

दिव्यांग के लिए महत्वपूर्ण स्टेशनों पर विशेष टॉयलेटः ट्रेन में यात्रा करने वाले दिव्यांग यात्रियों के लिए महत्वपूर्ण स्टेशनों पर विशेष टॉयलेट सुविधा बहाल की जाएगी। स्वच्छता के लिए नुक्कड़ नाटक और अन्य जागरुकता कार्यक्रम भी आयोजित होंगे।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Edited By: mritunjay

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट