धनबाद : भुवनेश्वर से नई दिल्ली के बीच चलने वाली 02823 भुवनेश्वर नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन का ठहराव अब पांच स्टेशनों से हटा लिया गया है। इनमें झारखंड के गोमो, मुरी व कोडरमा और ओडिशा के कटक एवं भद्रक स्टेशन शामिल हैं। ठहराव वापस लिए जाने से अब गोमो, मुरी और कोडरमा के यात्री इस ट्रेन में सफर नहीं कर सकेंगे। हालांकि ओडिशा के कटक और भद्रक के यात्रियों के लिए बालासोर से सफर की अनुमति दी गई है। पूर्व तटीय रेल ने इससे जुड़ी सूचना जारी कर दी है। दोनों स्टेशन से यात्रा करने वाले यात्रियों को यह विकल्प दिया गया है कि या बालेश्वर स्टेशन से सफर करें या फिर टिकट रद कराकर पूरे पैसे वापस लें। पूर्व तट रेल ने ठहराव वापस लेने को लेकर कहा है कि संबंधित पांचों स्टेशन पर स्वास्थ्य संबंधी प्रोटोकॉल कोविड-19 के अनुसार आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध नहीं होने के कारण यह निर्णय लिया गया है। ग्रैंड कॉर्ड पर हाथियों का झुंड, 50 की रफ्तार से ट्रेनें

- तीन दिनों से हजारीबाग रोड-केसवारी रेलखंड के बीच डेरा जमाए हुए हैं गजराज, थम-थम कर घूम रहे ट्रेनों के पहिए

जासं, धनबाद : हावड़ा-नई दिल्ली रेलमार्ग के ग्रैंड कॉर्ड सेक्शन पर तीन दिनों से हाथियों का झुंड डेरा जमाए हुए है। इसे लेकर रेलवे ने ट्रेनों की रफ्तार कम कर दी है। 130 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली ट्रेनों की 50 की गति से चल रही हैं। एक जुलाई को ऑन ड्यूटी रेलकर्मी ने हजारीबाग रोड से केसवारी रेलखंड के बीच रेल फाटक का बैरियर तोड़ते हुए हाथियों को देखा था। उसने तत्काल रेलवे कंट्रोल को सूचना दी थी। इसके बाद ही ट्रेनों की रफ्तार कम कर दी गई है। चालकों को लगातार सायरन बजाकर ट्रेन चलाने का निर्देश दिया गया है। शुक्रवार को इस रेल मार्ग पर चलने वाली हावड़ा-नई दिल्ली राजधानी स्पेशल समेत सभी ट्रेनों को अधिकतम 50 किमी प्रति घंटे की गति से चलाया गया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस