जासं, धनबाद। शहर के सबसे बड़े मंदिर जोड़ाफाटक स्थित शक्ति मंदिर में नवरात्रि को लेकर विशेष व्यवस्था की गई है। इसके लिए मंदिर समिति के सदस्य ने बैठक कर महत्वपूर्ण निर्णय लिए। बैठक की अध्यक्षता उपाध्यक्ष सुरेंद्र ठक्कर ने की। बताया गया कि माता के भक्तों को सुरक्षित दर्शन कराना शक्ति मंदिर कमेटी की प्राथमिकता है। जो भक्तों के सहयोग से ही संभव है। भक्तों की सुविधा के लिए मंदिर कमेटी, प्रबंधन समिति एवं सेवादार समिति के सदस्य अपनी सेवा के लिए पूरे नवरात्र तक तात्पर्य है। बैठक में मुख्य रूप से सचिव अरुण भंडारी, संरक्षक आईएम मेनन, कोषाध्यक्ष विपिन अरोड़ा, संयुक्त सचिव सुरेंद्र अरोड़ा, सह- कोषाध्यक्ष साकेत साहनी, सोमनाथपुर पुर्थी, अशोक भशीन, प्रबंधक बृजेश मिश्रा मौजूद थे। सभी ने नवरात्रि में भक्तों के दर्शन के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लिए। 

नवरात्रि को लेकर मंदिर की तैयारी

  • मंदिर को पूरी तरह फूलों से सजा सज्जा तथा लाइटों से विद्युत सज्जा की जाएगी।
  • मंदिर में प्रत्येक साल नवरात्रि को लेकर श्रद्धालुओं का हुजूम उमड़ता है इसलिए जो श्रद्धालु मंदिर के अंदर प्रवेश नहीं कर सकते हैं उनके लिए मंदिर के बाहर एलईडी टीवी स्क्रीन लगाई जाएगी। जिससे श्रद्धालु माता का दर्शन मंदिर के बाहर से ही कर पाएंगे। 
  • मंदिर में माता के दर्शन के लिए भीड़ भाड़ ना हो इसलिए आनलाइन दर्शन कूपन की व्यवस्था की गई है। जो शक्ति मंदिर वेबसाइट पर उपलब्ध कर दी गई है। जिससे श्रद्धालुओं को मां के दर्शन के लिए प्रवेश दिया जाएगा। 
  • मां दुर्गा की आरती के समय कोई भी श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई है।
  • सरकारी गाइडलाइन का पालन करते हुए फूल माला, प्रसाद, नारियल, चुनरी मंदिर में ले जाने की अनुमति नहीं है। 
  • मंदिर के अंदर 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को मंदिर के अंदर प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी गई है। 18 वर्ष से ऊपर जो भी श्रद्धालु मंदिर में प्रवेश शारीरिक दूरी बनाकर तथा मास्क लगाकर प्रवेश करेंगे। 

Edited By: Mritunjay