जागरण संवाददाता, धनबाद। सशस्त्र सेना झंडा दिवस कॉर्पोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व सम्मेलन का आयोजन वायु सेना सभागार सुब्रतो पार्क नई दिल्ली में हुआ। समारोह में बतौर मुख्य अतिथि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह विशेष रूप से उपस्थित हुए। कई व्यापारिक घरानों ने भी अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। यह कार्यक्रम व्यापारिक घरानों की ओर से सशस्त्र सेना कल्याण कोष में योगदान करने का एक बेहतरीन अवसर भी था। भारतीय स्टेट बैंक की प्रतिनिधित्व करते हुए दिनेश खारा ने 10 करोड़ रुपये का योगदान दिया। सन टीवी की प्रतिनिधि के तौर पर कावेरी कलानिधि ने पांच करोड़ का योगदान दिया। इनके अलावा कई अन्य व्यापारिक घराने मसलन भारतीय जीवन बीमा निगम, एलजी इंडिया, आइसीआइसीआइ फाउंडेशन ने भी बढ़चढ़ कर सशस्त्र सेना झंडा दिवस में सहयोग किया। आश्रितों एवं अशक्त सैनिकों के पुनर्वास के लिए 33 करोड़ रुपये जुटाए।

जेके सिंह के विशेष योगदान की तारीफ

पूरे समारोह के मास्टर आफ सेरेमनी धनबाद के कर्नल जेके सिंह थे। कर्नल यहां पालीटेक्निक रोड झाड़ूडीह में रहते हैं और इस समय एसपी एसटीएफ झारखंड जगुआर और झारखंड पुलिस के कमांडेंट एसएपी-2 बटालियन के पद पर भी कार्यरत हैं। इसके अलावा बाल सुधार गृह झारखंड के नोडल पदाधिकारीह भी हैं। कर्नल जेके सिंह के विशेष योगदान की रक्षा मंत्री, माननीय राज्य रक्षा मंत्री और दर्शकों ने विशेष रूप से सराहना की। सत्र के अंत में चाय के समय एक अनौपचारिक मुलाकात के दौरान कर्नल जेके सिंह ने देश के रक्षा मंत्री को अपनी लिखी हुई देशभक्ति कविता संग्रह मैं सारा हिंदुस्तान हूं भी भेंट की। कर्नल ने बताया कि सशस्त्र झंडा दिवस कार्यक्रम के तहत मिलने वाली राशि सेना के स्वजन के काम में उपयोग की जाती है।

पिछली बार से इस बार अधिक समर्पण

कर्नल जेके सिंह ने बताया कि देश के लिए सेना के जवान बलिदान देते आ रहे हैं। पीछे रह जाते हैं तो इनके आश्रित। सशस्त्र सेना झंडा दिवस थल सेना, वायु सेना और जल सेना के आश्रितों एवं अशक्त हुए कर्मियों के पुनर्वास व कल्याण के लिए देश के समस्त नागरिकों की सामूहिक जिम्मेदारी की याद दिलाता है। इस फंड में दिल खोलकर लोगों ने दान दिया। रक्षा मंत्री राजनाथ ने कार्यक्रम की सराहना करते हुए अधिक से अधिक लोगों को आगे आकर सहयोग करने की अपील की। रक्षा मंत्री ने कार्यक्रम का संचालन कर रहे धनबाद के कर्नल जेके सिंह की तारीफ भी की। उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर कर्नल जेके सिंह के साथ वाली कार्यक्रम की तस्वीर भी अपडेट की। कर्नल जेके सिंह ने बताया कि पिछले वर्ष इस दिवस के माध्यम से लगभग 18 करोड़ रुपये भारत की जनता ने दिए थे।

Edited By: Mritunjay