संवाद सहयोगी, कटड़ा : आखिरकार करीब दो माह बाद एक बार फिर मंगलवार देर शाम को श्री माता वैष्णो देवी रेलवे स्टेशन कटड़ा श्रद्धालुओं से गुलजार हुआ। हालाकि इंदौर से आई मालवा एक्सप्रेस को तय समय पर श्री माता वैष्णो देवी रेलवे स्टेशन कटड़ा पर मंगलवार की शाम 6:30 बजे पहुंचना था, परंतु यह ट्रेन एक घटा 5 मिनट विलंब से 7:35 बजे रेलवे स्टेशन पर पहुंची।

जैसे ही मालवा एक्सप्रेस ट्रेन कटड़ा रेलवे स्टेशन पर पहुंची तो श्रद्धालुओं की अगवानी स्टेशन सुरिटेंडेंट आरके हक्कू के साथ ही अन्य रेलवे विभाग के अधिकारियों व एसएसपी जीआरपी संजय कोतवाल आदि ने की। दूसरी ओर ट्रेन के आगमन से पहले ही रेलवे स्टेशन परिसर में विशेष दूरी के हिसाब से निशान लगाए गए थे, ताकि श्रद्धालुओं में किसी भी तरह की आपाधापी न हो और कोरोना को लेकर श्रद्धालु जारी दिशा निर्देशों का पूरी तरह से पालन कर सकें। दूसरी ओर जैसे ही श्रद्धालु कटड़ा रेलवे स्टेशन से बाहर आए तो पंक्तिबद्ध खड़े होकर अपना कोरोना टेस्ट करवाने के लिए इंतजार करते रहे। किसी के पॉजिटिव पाए जाने पर उसे कटड़ा में ही क्वारंटाइन किया जाएगा। वहीं, स्वास्थ्य विभाग द्वारा कटड़ा रेलवे स्टेशन परिसर में कोरोना सेंटर स्थापित किया गया है, जहां श्रद्धालुओं का कोरोना टेस्ट किया गया। हालाकि कुछ श्रद्धालु अपने साथ कोरोना टेस्ट रिपोर्ट लेकर आए थे, उन्हें सीधे आधार शिविर कटड़ा की ओर जाने की इजाजत दे दी गई। श्री माता वैष्णो देवी रेलवे स्टेशन के सुपरिटेंडेंट आरके हक्कू ने बताया कि कटड़ा रेलवे स्टेशन पर देर शाम इंदौर से पहुंची मालवा एक्सप्रेस में करीब 150 श्रद्धालु पहुंचे हैं। हालांकि ट्रेन अपने तय समय से करीब एक घटा 5 मिनट लेट पहुंची। वहीं, आरके हक्कू ने बताया कि बुधवार को दोपहर बाद 2:55 बजे जबलपुर से आने वाली जबलपुर-जम्मू-कटड़ा एक्सप्रेस ट्रेन कटड़ा रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी। वहीं, श्री शक्ति ट्रेन दिल्ली से कटड़ा रेलवे स्टेशन पर आगामी 26 नवंबर को सुबह 5:00 बजे पहुंचेगी। जानकारों का मानना है कि आने वाले दिनों में अगर ट्रेनों का परिचालन पूरी तरह से रहा तो श्रद्धालुओं की संख्या में भी बढ़ोतरी होगी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021