श्रीनगर, राज्य ब्यूरो। Jammu kashmir situation: सेना की उत्तरी कमान के जीओसी-इन-सी लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने उत्तरी कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर स्थित अग्रिम इलाकों का दौरा कर युद्धक तैयारियों व घुसपैठ रोधी तंत्र का जायजा लिया। उन्होंने जवानों व अधिकारियों को दुश्मन के हर नापाक मंसूबे को नाकाम बनाने के लिए हरदम तैयार रहने के निर्देश दिए।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि रणबीर सिंह वीरवार को वादी के आंतरिक व बाहरी सुरक्षा परिदृश्य का जायजा लेने ग्रीष्मकालीन राजधानी पहुंचे। उन्होंने चिनार कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल केजेएस ढिल्लो के साथ उत्तरी कश्मीर में एलओसी से सटे अग्रिम इलाकों के अलावा वादी के भीतरी हिस्सों में स्थित सैन्य प्रतिष्ठानों का दौरा कर हालात पर विचार विमर्श किया।

उन्होंने बताया कि उत्तरी कमान प्रमुख ने अग्रिम चौकियों पर तैनात जवानों व अधिकारियों से बातचीत कर उनका मनोबल बढ़ाया। रणबीर सिंह ने कहा कि देश का प्रत्येक नागरिक और सरकार सरहद पर खड़े जवानों व अधिकारियों के पीछे मजबूत दीवार की तरह खड़ी है। उन्होंने पाकिस्तान की ओर से जंगबंदी के उल्लंघन की हालिया घटनाओं और घुसपैठ की कोशिशों से पैदा हालात का भी जायजा लिया।

उत्तरी कमान प्रमुख ने चिनार कोर कमांडर व अन्य वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के साथ आतंकरोधी अभियानों का भी जायजा लिया। उन्होंने सदभावना अभियान के तहत दूरदराज इलाकों में बसे लोगों को शिक्षा, स्वास्थ्य व खेलकूद के क्षेत्र में आवश्यक सुविधाएं प्रदान करने और आपात परिस्थितियों में आम लोगों की तत्काल मदद करने के लिए संबंधित यूनिटों, अधिकारियों व जवानों को सराहा।

रणबीर सिंह ने कानून व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने में नागरिक प्रशासन व अन्य सुरक्षा एजेंसियों का सहयोग करने पर जोर देते हुए कहा कि एलओसी पर पूरी चौकसी बरती जाए। सर्दियां आने वाली हैं, इसलिए घुसपैठ की कोशिशें तेज हो सकती हैं। इनको हर हाल में नाकाम बनाया जाए। उन्होंने जवानों व अधिकारियों को राष्ट्रविरोधी तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का निर्देश देते हुए स्थानीय युवकों को आतंकियों की चंगुल से बचाने के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने के लिए भी कहा। 

Posted By: Preeti jha

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप