जम्मू, राज्य ब्यूरो। जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल जीसी मुर्मू की सुरक्षा का जिम्मा संभाल रहे विशेष सुरक्षा बल (एसएसएफ) को और सुदृढ़ बनाने के लिए 19 और पुलिस अधिकारियों व सपोर्ट स्टाफ को तैनात किया गया है। इन सभी को एसएसएफ में प्रतिनियुक्ति के आधार पर भेजा गया है। अब एसएसएफ में अधिकारियों, जवानों व सपोर्ट स्टाफ की संख्या 80 हो गई है।

जम्मू कश्मीर गृह विभाग के विशेष सचिव शकील उर रहमान ने गत वीरवार देर रात आदेश जारी कर एक इंस्पेक्टर, दो सब इंस्पेक्टर, एक हेड कांस्टेबल, सात सेलेक्शन ग्रेड कांस्टेबल, दो कांस्टेबल, एक कुक और पांच फॉलोअर को तत्काल प्रभाव से एसएसएफ में प्रतिनियुक्ति पर भेजा है।

उल्लेखनीय है कि जम्मू कश्मीर के उप राज्यपाल जीसी मुर्मू की सुरक्षा का जिम्मा संभाल रहे विशेष सुरक्षा बल (एसएसएफ) को और सुदृढ़ बनाने के लिए 19 और पुलिस अधिकारियों व सपोर्ट स्टाफ को तैनात किया गया है। इन सभी को एसएसएफ में प्रतिनियुक्ति के आधार पर भेजा गया है। अब एसएसएफ में अधिकारियों, जवानों व सपोर्ट स्टाफ की संख्या 80 हो गई है। पहले जम्मू कश्मीर में मुख्यमंत्री की सुरक्षा के लिए स्पेशल सिक्योरिटी ग्रुप (एसएसजी) होता था। राज्यपाल की सुरक्षा के लिए कोई विशेष दल नहीं था और एसएसजी ही यह जिम्मेदारी संभालता था। वर्ष 2018 में राज्य प्रशासनिक परिषद ने राज्यपाल की सुरक्षा व्यवस्था के लिए एक बिल के जरिए एसएसएफ के गठन को मंजूरी दी थी। एसएसएफ को राज्यपाल और उनके परिजनों की सुरक्षा का जिम्मा है।

जम्मू कश्मीर में अब राज्यपाल के स्थान पर उप राज्यपाल का पद है, इसलिए एसएसएफ उनके परिजनों की सुरक्षा का जिम्मा संभाल रहा है। एसएसएफ में उन्हीं पुलिस अधिकारियों, जवानों व सहायक कर्मियों को नियुक्त किया जाता है, जो एसएसजी के जवानों व अधिकारियो की तरह ही प्रशिक्षित कमांडो हों।

एसएसजी का गठन वर्ष 1996 में तत्कालीन मुख्यमंत्री डॉ. फारूक अब्दुल्ला के शासनकाल में हुआ था। एसएसजी के गठन, इसके नियम और जिम्मेदारियों की व्याख्या जम्मू कश्मीर विशेष सुरक्षा बल समूह अधिनियम 2000 में की गई है। 

36 मंत्रियों के जम्मू कश्मीर दौरे से भाजपा खुश, रविन्द्र रैना कोर ग्रुप के साथ कल जाएंगे दिल्ली

जम्मू-कश्मीर: नशा तस्करों से निपटेगी स्पेशल नारकोटिक्स सेल, पुलिस ने गृह मंत्रालय को मंजूरी के लिए भेजा प्रस्ताव

Posted By: Preeti jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस