श्रीनगर, राज्य ब्यूरो : मध्य कश्मीर केे गांदरबल जिले में बादल फटने से सड़कों, घरों और फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है।गांदरबल के बागपथरी सुरफ्रा, सुंबल बाला गुंड, दर्द वुडार और याछामा गांवों में बादल फटने के बाद अचानक से आई बाढ़ के कारण यह नुकसान हुआ। इसके अलावा इससे श्रीनगर-लेह राजमार्ग पर भी वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई है।

मध्य कश्मीर के कंगन गांवों के ऊपरी इलाकों में कुछ स्थानों पर बादल फटने से सड़कों, घरों और फसलों को नुकसान पहुंचा है। स्थानीय लोगों ने बताया कि रविवार देर रात मध्य कश्मीर के गांदरबल जिले के बागपथरी सुरफ्रा, सुंबल बाला गुंड, दर्द वुडार और याछामा गांवों में बादल फटने की घटना पेश आई। बादल फटने से सुंबल बाला गुंड, दर्द वुडदार और यछामा गांवों में संपत्ति और कृषि भूमि को आंशिक नुकसान हुआ, लेकिन बागपथरी सुफ्रा में बादल फटने से अचानक आई बाढ़ में सड़कों और कृषि भूमि को काफी नुकसान पहुंचा। कुछ घरों में पानी घुस गया और एक ईंट कारखाने को भी नुकसान पहुंचा।

इसके बाद कंगन के थाना प्रभारी और एसडीआरएफ की टीमें तुरंत मौकेे पर पहुंची और उन्होंने बचाव कार्य शुरू कर दिया। बादल फटने से नाले के दोनों ओर बड़ी संख्या में रह रहे लोग फंस गए थे। एसडीआरएफ की टीमों ने बच्चों, महिलाओं व बुजुर्गाें सहित सभी को घरों से बाहर निकाल कर सुरक्षितत जगहों पर पहुंचाया। बदल फटने के कारण कई घर तबाह हो चुके हैं। प्रशासन के अनुसार राहत और बचाव कार्य चल रहा है। सभी परिवारों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया गया है। अभी तक किसी के भी जानी नुकसान की जानकारी नहीं है। हालांकि बादल फटने से अभी कितना नुकसान हुआ इसका जायजा लिया जा रहा है।

प्रशासनिक अधिकारियों के अनुसार बादल फटने के बाद लद्दाख को जोड़ने वाले राजमार्ग में भी चट्टानें और मिट्टी आ गई थी। इस कारण वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित हुई थी। उसके बाद सीमा सड़क संगठन हरकत में आया और उनसने सड़क को साफ करने के लिए तत्काल कार्यवाही शुरू की। कुछ ही घंटों में राजमार्ग पर एक तरफा ट्रैफिक शुरू कर दी गई। अधिकारियों के अनुसार दोनों ओर से ट्रैफिक को दोतरफा शुरू करने के लिए काम चल रहा है। आज वाहनों को लद्दाख से श्रीनगर की ओर छोड़ा जाएगा। सुबह सात बजे से दाेपरह दो बजे तक ही वाहनों को जाने की अनुमति होगी।

Edited By: Rahul Sharma