जम्मू, जागरण संवाददाता। दैनिक जागरण के सड़क सुरक्षा अभियान के तहत बुधवार को शहर के अति व्यस्त बिक्रम चौक में एनसीसी कैडेट्स और ट्रैफिक पुलिस जम्मू ने यातायात नियमों का पालन नहीं करने वाले चालकों को नियमों के प्रति जागरूक किया। इस दौरान जिन चालकों को यातायात नियमों का पूरी तरह से पालन किया था, की प्रशंसा भी की गई।

गवर्नमेंट मौलाना आजाद मेमोरियल (एमएएम) कालेज जम्मू के एनसीसी कैडेट्स के दल से साथ एसोसिएट प्रो. डाक्टर करण सिंह कालेज से बिक्रम चौक पर जागरूकता रैली निकाल कर पहुंचे। रैली में शामिल कैडेट्स यातायात नियमों के पालन बारे नारे लगा रहे थे। बिक्रम चौक में सुपरिंटेंडेंट आफ पुलिस ट्रैफिक राज पाल मन्हास, डीएसपी ट्रैफिक सिटी साउथ विक्रम कुमार भी अपनी टीम के साथ इस जागरूकता अभियान का हिसाब बनने के लिए पहुंचे हुए थे। पुलिस अधिकारियों ने एनसीसी कैडेट्स को पहले यह जानकारी दी कि वे किस प्रकार से वाहन चालकों को नियमों के पालन बारे बताएंगे। ट्रैफिक पुलिस ने जागरूकता अभियान के दौरान नियमों का पालन ना करने वाले चालकों के चालान काटने की बजाए उन्हें जागरूक कर चेतावनी देकर छोड़ दिया। एनसीसी कैडेट्स ने इस दौरान सीट बेल्ट ना पहनने वाले चार पहिया वाहन चालकों को रोक कर उन्हें सीट बेल्ट पहनने के क्या लाभ है के बारे में बताया। इस प्रकार से बिना हेलमेट के दो पहिया वाहन चला रहे चालकों को भी इस प्रकार से एनसीसी कैडेट्स से जागरूक किया। कैडेट्स ने स्टाप से पहले वाहन रोकने वाले मिनीबस चालकों को स्टाप पर ही यात्रियों को बैठाने और वाहन से उतारने बारे जागरूक किया।

दैनिक जागरण का यह अभियान बहुत ही महत्वपूर्ण

दैनिक जागरण ट्रैफिक पुलिस की तरह कात करते हुए सड़क हादसों को रोकने के लिए यह जो अभियान चला रहा है यह सराहनीय कार्य है। सड़क सुरक्षा के लिए जागरूकता अहम भूमिका निभाती है। जम्मू कश्मीर में प्रत्येक वर्ष एक हजार के करीब कीमती जानें सड़क हादसों में जाती है। इनमें से अधिकतर हादसे वाहन चालकों की लापरवाही या यातायात नियमों का पालन ना करने के कारण होते है। छात्र सबसे बेहतर संदेशवाहक है। जब वह स्वयं जागरूक होंगे तो वे दूसरों को भी जागरूक कर सकते है। - एसपी ट्रैफिक जम्मू : राज पाल मन्हास

दैनिक जागरण द्वारा चलाए जा रहे जागरूकता अभियान बहुत कामयाब साबित हो रहे है। बीते कुछ दिन में जम्मू शहर की बात करे तो यातायात उल्लंघन के मामलों में कमी देखी जा रहा है। दो पहिया वाहनों में सवार होने वाले दोनों लोग हेलमेट पहन रहे है। एनसीसी कैडेट्स यानि युवाओं को इस जागरूकता अभियान के साथ जोड़ना एक महत्वपूर्ण कदम है। जिसके नतीजे भी सामने आएंगे। पुलिस का यह मानना है कि यदि एक युवा जागरूक होगा तो वह अपने साथ दस और युवाओं को यातायात नियमों के पालन बारे जागरूक करेगा। कालेज पहुंचने के बाद ही छात्रों को ड्राइविंग लाइसेंस मिलता है। ऐसे में यदि छात्र स्वयं जागरूक जो जाएंगे तो इस का लाभ सड़क हादसों में कमी के जरिए देखा जाएगा। डीएसपी ट्रैफिक सिटी साउथ : विक्रम कुमार

दैनिक जागरण ने सड़क हादसों को रोकने के लिए एमएएम कालेज और ट्रैफिक पुलिस जम्मू को अपने साथ जोड़ कर बेहतरीन पहल की है। आज के इस जागरूकता अभियान में एनसीसी के कैडेट्स की मदद से वाहन चालकों को हादसों को रोकने के लिए जागरूक किया। कोई देश तभी तरक्की कर सकता है जब वहां के युवा स्वयं जागरूक हो। आज के इस अभियान में कालेज के छात्रों ने येलो लेन, जेबरा क्रासिंग, लेन ड्राइविंग के बारे में सिखा भी और सिखाया भी। उम्मीद करते है कि भविष्य में दैनिक जागरण अपने सामाजिक दायित्व का निर्वाह करते हुए इस प्रकार के जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करते रहेगा। एमएएम कालेज के एनसीसी इंचार्ज मेजर डा. एसोसिएट प्रोफेसर करण सिंह

Edited By: Vikas Abrol

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट