जम्मू, जागरण संवाददाता । जम्मू रेलवे स्टेशन के डिवीजन ट्रैफिक मैनेजर और स्टेशन में बने चाइल्ड हेल्प डेस्क (सीएचडी) के चेयरमैन सुधीर सिंह ने रेलवे के सभी विभागों को सीएचडी के साथ समन्वय बना कर काम करने को कहा है। यह हिदायत उन्होंने रेलवे स्टेशन में सीएचडी की समीक्षा बैठक के दौरान दी।

बैठक में सीएचडी की प्रदेश प्रमुख मंजरी सिंह ने महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा लावारिस मिले बच्चों के रखरखाव और उन्हें सरंक्षण देने बारे जारी किए गए दिशा निर्देशों के बारे में बैठक में उपस्थित लोगों को जानकारी दी। उन्होंने चाइल्ड हेल्प ग्रुप और चाइल्ड हेल्प डेस्क (चाइल्ड लाइन) के आपस में तालमेल बना कर काम करने की जरूरत पर बल दिया। वहीं, इस दौरान स्टेशन परिसर में बने सीएचडी की वार्षिक रिपोर्ट और बच्चों के सरंक्षण के लिए बीते वर्ष की गई गतिविधियों की जानकारी भी दी गई। डीटीएम जम्मू को इस दौरान सीएचडी को स्टेशन में काम करने में आ रही दिक्कतों के बारे में भी अवगत करवाया गया।

रेलवे के सभी विभाग बच्चों के अधिकारों का सरंक्षण करेंगे

डीटीएम जम्मू सुधीर सिंह सीएचडी के सदस्यों को यह आश्वासन दिया कि उनकी सभी दिक्कतों को दूर किया जाएगा। रेलवे के सभी विभाग उनके साथ मिलकर बच्चों के अधिकारों का सरंक्षण करेंगे। इस अलावा स्टेशन में लावारिस मिलने वाले बच्चों को रखने के लिए सीएचडी को स्थान उपलब्ध करवाया जाएगा। चाइल्ड लाइन के हेल्प लाइन नंबर 1098 के बारे में लगातार स्टेशन में घोषणा की जाएगी ताकि यात्री इस हेल्पलाइन के बारे में जागरूक हो सके।

कोरोना वायरस के संक्रमण से सीएचडी के सदस्यों को बचाने के लिए हर संभव उपाय किए जाएंगे। बेठक में स्टेशन सुपरिंटेंडेंट राजीव सभ्रवाल, सीएमआइ प्रदीप कुमार, सीएचआइ नीरज कुमार, सीआइटी बसंती, एसएसई जाहिद अली, जीआरपी के सब इंस्पेक्टर मोहम्मद असलम, आरपीएफ के सब इंसपेक्टर शब्बीर अहमद के अलावा कुल्ली और पोटर यूनियन के सदस्य भी मौजूद रहे। 

Edited By: Vikas Abrol