मनाली, जागरण संवाददाता। अटल टनल रोहतांग के दोनों छोर सहित लाहुल घाटी में हिमपात का क्रम दूसरे दिन भी जारी है। रात को हुए भारी हिमपात से लाहुल घाटी में बर्फ के ढेर लग गए हैं। रोहतांग दर्रे में ढाई फीट, कोकसर व अटल टनल के पोर्टल में डेढ़ फीट पट्टन वैली में 10 से 12 इंच तीनन वैली में लगभग दो फुट और जिला मुख्यालय केलांग में एक फुट से अधिक बर्फबारी हुई है। कोकसर, सिस्सू व तिनन में बर्फीली हवाएं चलने से ग्रमीणो को भारी दिक्कत का भी सामना करना पड़ा।

आज सुबह के समय भी तेज हवाओ के साथ हल्के हिमपात का क्रम जारी रहा लेकिन 11 बजे के बाद हिमपात का क्रम धीमा हुआ है और कंही कंही बादलों के बीच छुपी धूप भी निकलने लगी है। बीआरओ सड़क बहाली में जुटा गया है। लाहुली घाटी की मुख्य सड़कों को बहाल करना बीआरओ की प्राथमिकता है।

मंत्री विक्रमादित्य का लाहुल दौरे

आज लोक निर्माण विभाग एवं खेल मंत्री विक्रमादित्य सिंह का लाहुल दौर भी है। मंत्री के दौरे को लेकर मनाली प्रशासन भी तैयारी में जुटा गया है। प्रशासन बीआरओ के साथ तालमेल बिठाते हुए मंत्री के काफिले को लाहुल भेजने की व्यवस्था करने में लगा हुआ है। हालांकि मंत्री का केलंग पहुंचना मौसम व परिस्थितियों पर निर्भर है लेकिन मनाली प्रशासन उनके दौरे को लकेर सतर्क है और व्यवस्था में जुटा हुआ है।

पर्यटन स्थलों में भी भारी हिमपात

दूसरी ओर मनाली के पर्यटन स्थलों में भी भारी हिमपात हुआ है। धुंधी व मढ़ी में डेढ़ फीट जबकि सोलांग, गुलाबा, कोठी, फातरु, अंजनी महादेव और हामटा में एक से डेढ़ फीट तक बर्फ की चादर बिछ गई है। ताजा हिमपात के बाद मनाली में पर्यटन कारोबार भी बेहतर चला हुआ है। आज पर्यटकों को नेहरुकुड़ तक भेजा जा रहा है। फ़ोर व्हील ड्राइव वाहनों में पर्यटक सोलंगनाला में भी पहुंच रहे हैं और बर्फ की मोटी परत का आनंद ले रहे हैं।

बीआरओ चीफ इंजीनियर ब्रिगेडियर जितेंद्र प्रसाद का कहना है कि बीआरओ हिमपात के बीच बर्फ हटाने में जुटा है। उन्होंने कहा कि लाहुल घाटी के मुख्य मार्ग को प्राथमिकता में बहाल किया जा रहा है। मनाली एसडीएम डा. सुरेन्द्र ठाकुर ने कहा कि बीआरओ सड़क बहाल कर रहा है। उन्होंने बताया कि मंत्री के दौरे को लेकर प्रशासन ने सभी तैयारी कर ली है।

Edited By: Jagran News Network

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट